यूनेस्को, यू एन हैबिटेट, एशियन डेवलपमेंट बैंक, यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट, सिविकस, वर्ल्ड बैंक, आई एम ऍफ़, यू एन वाटर, यू एन फाउंडेशन और “स्वयं बनें गोपाल”

आप सभी आदरणीय पाठकों को प्रणाम,

“संयुक्त राष्ट्र संघ” की संस्था यूनेस्को (UNESCO; www.unesco.org) ने 24 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2019 के बीच में पूरे विश्व में आयोजित होने वाले “ग्लोबल मीडिया एंड इनफार्मेशन लिटरेसी वीक” (Global Media and Information Literacy Week) से संबन्धित गतिविधियों/कार्यक्रमों में से कुछ को अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया है !

वैसे तो “ग्लोबल मीडिया एंड इनफार्मेशन लिटरेसी वीक” से संबन्धित गतिविधियों/कार्यक्रमों का आयोजन पूरे विश्व में कई अंतराष्ट्रीय संस्थाओं ने बहुत ही बड़े पैमाने पर किया था, लेकिन यूनेस्को ने सिर्फ लगभग 200 बेहद प्रभावशाली मानी जाने वाली संस्थाओं का ही अपनी वेबसाइट पर प्रकाशन स्वीकृत किया है जिसमें आपकी अपनी संस्था “स्वयं बनें गोपाल” समूह का भी नाम है !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह की यह गतिविधि इसके नाम के इंग्लिश अनुवाद अर्थात “Make Yourself Gopal” नाम से यूनेस्को की वेबसाइट पर प्रकाशित है जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें (और ओपेन होने वाले पेज में नीचे जाकर इंडिया (India) की केटेगरी में “Make Yourself Gopal” पर क्लिक करें)- https://en.unesco.org/commemorations/globalmilweek/2019/aroundtheworld

जिन आदरणीय पाठकों को यूनेस्को के बारे में नहीं पता है उन्हें हम बताना चाहेंगे कि यूनेस्को, “संयुक्त राष्ट्र संघ” की वह संस्था है जो पूरे विश्व में विज्ञान, शिक्षा व संस्कृति के विभिन्न पहलुओं के संरक्षण व संवर्धन के लिए सतत प्रयास करती रहती है ! भारत का आगरा स्थित ताजमहल, मिश्र देश (Egypt) के पिरामिड, अमेरिका की स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी, फ्रांस का एफ्फिल टावर व ब्रिटेन का टावर ऑफ़ लंदन आदि को वैश्विक धरोहर (World Heritage) यूनेस्को ने घोषित ही किया है !

यूनेस्को की ही तरह “संयुक्त राष्ट्र संघ” की एक अन्य संस्था “यू एन हैबिटैट” (U N HABITAT; https://new.unhabitat.org/) ने भी “स्वयं बनें गोपाल” समूह के बारे में अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया है !


“यू एन हैबिटैट” विश्व में बढ़ते शहरीकरण से सम्बन्धित समस्याओं व अवसरों की विवेचना करता है ! अर्थात “यू एन हैबिटैट” का मुख्य कार्य यही सुनिश्चित करना है कि शहरों में रहने वाले सभी नागरिक हर मूलभूत सुविधाओं व नैतिक मूल्यों से सम्पन्न जीवन प्राप्त कर सकें !

इसी वजह से “यू एन हैबिटैट” ने 31 अक्टूबर को “वर्ल्ड सिटीज डे” (World Cities Day) घोषित कर रखा है और इस दिन वह विश्व की उन चुनिन्दा गतिविधियों/कार्यक्रमों के बारे में अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित करता है जिनका किसी न किसी प्रकार से शहरी नागरिकों के लाइफ स्टाइल पर ठोस सकारात्मक असर पड़ता हो !

“स्वयं बनें गोपाल” द्वारा चलाया गया अभियान “हू वी आर” (Who We Are) इसी स्तर का अभियान है, अतः पूरे विश्व में ना जाने कितनी अन्तराष्ट्रीय संस्थाओं द्वारा बड़े पैमाने पर चलाये गए अभियानों के बावजूद, मात्र जिन लगभग 50 गतिविधियों/कार्यक्रमों को “यू एन हैबिटैट” ने अपनी विश्व प्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया है उनमें “स्वयं बनें गोपाल” समूह का भी नाम है जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://urbanoctober.unhabitat.org/event/who-we-are

हम आपको यह भी बताना चाहेंगे कि “संयुक्त राष्ट्र संघ” ने भ्रष्टाचार उन्मूलन, मानवाधिकार, श्रम अधिकार व पर्यावरण सुरक्षा के अपने विश्वस्तरीय अभियान में “स्वयं बनें गोपाल” समूह को भी अपना सहभागी बना लिया है !

संयुक्त राष्ट्र संघ के इस अभियान का नेतृत्व संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” (United Nations Global Compact; https://www.unglobalcompact.org/) कर रही है जिसके द्वारा कई महीने तक चली विभिन्न स्तरीय चयन प्रक्रिया के सफलतापूर्वक पूर्ण होने पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह को भी इस विश्व्यापी अभियान का सहभागी चुन लिया गया है !

“यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर- सुश्री “लीजे किंगो” (Executive Director – Ms. Lise Kingo) ने पत्र लिखकर “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों के प्रति अपना आभार व धन्यवाद प्रकट किया है ! “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” की वेबसाइट पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह का विवरण देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://www.unglobalcompact.org/participation/report/cop/create-and-submit/detail/432537

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के अतिरिक्त भारत देश की 340 अन्य आर्गेनाइजेशन्स (Organisations) भी “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” के अभियान से जुड़ी हुईं हैं जिनमें भारत की लगभग सभी प्रसिद्ध अन्तर्राष्ट्रीय आर्गेनाइजेशन्स हैं, जैसे- इनफ़ोसिस (Infosys Ltd), अडानी पॉवर (Adani Power Ltd), एच सी एल टेक्नोलॉजीज (HCL Technologies Ltd.), डॉक्टर रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड (Dr. Reddy’s Laboratories Ltd.), एस बैंक (YES BANK Ltd), पी वी आर (PVR Ltd), विप्रो (Wipro Ltd), वेदांता (Vedanta Ltd.), टी सी एस (Tata Consultancy Services), हिंदुस्तान यूनिलीवर (Hindustan Unilever Limited), ओ एन जी सी (Oil and Natural Gas Corporation), स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (Steel Authority of India Ltd), टाटा मोटर्स (Tata Motors Ltd.), भेल (Bharat Heavy Electricals Limited – BHEL), एन टी पी सी (NTPC Ltd), हेल्पेज इंडिया (HELPAGE INDIA), डाबर (Dabur India Limited), सैप इंडिया (SAP India Pvt Ltd), हैवेल्स इंडिया (HAVELLS INDIA LIMITED), हिंदुस्तान पेट्रोलियम (Hindustan Petroleum Corp. Ltd) आदि !

“यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” के अभियान से जुड़ी सभी आर्गेनाइजेशन्स को संयुक्त राष्ट्र संघ ने सारांशतः यही जिम्मेदारी सौपी है कि वे “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” के भ्रष्टाचार उन्मूलन, मानवाधिकार, श्रम अधिकार व पर्यावरण सुरक्षा (Anti-Corruption, Human Rights, Labour Rights, Environmental Conservation) सम्बन्धित 10 सिद्धान्तों का पूरे विश्व में अधिक से अधिक प्रचार, प्रसार व पालन करवाने का प्रयास करें !

जिसके लिए “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” ने “स्वयं बनें गोपाल” समेत अपने से जुड़ी कुछ अन्य आर्गेनाइजेशन्स को अपना “लोगो” (चिन्ह; Logo) इस्तेमाल करने का विशेषाधिकार दिया है ! अतः अब से आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह के हर लेखों में पूरे विश्व को नियंत्रित करने वाली सबसे शक्तिशाली संस्था “संयुक्त राष्ट्र संघ” के इस अभियान के “लोगो” (Logo) को लगा हुआ देखेंगे {ऊपर दिया हुआ लोगो “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” के इस अभियान का ही है जिसे आप वेबसाइट के “कैटेगरीज” के कॉलम (Categories Column) में सबसे ऊपर लगा हुआ देखेंगे} !

वास्तव में “संयुक्त राष्ट्र संघ” एक पूरी तरह से सरकारी संस्था है जो भारत सरकार समेत 193 देशों की सरकारों से मिलकर बनी हुई है ! अतः अपनी वेबसाइट में “संयुक्त राष्ट्र संघ” के इस अभियान के “लोगो” (Logo) को इस्तेमाल करने का विशेषाधिकार प्राप्त करना निश्चित रूप से “स्वयं बनें गोपाल” समूह के लिए गौरव की बात है !

फाइल चित्र न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री- श्रीमती जैसिंडा अर्डर्न

अभी हाल ही में “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट लीडर्स वीक” (UN Global Compact Leaders Week 2019) का आगाज हुआ था जिसमें विभिन्न देशों से “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” से जुड़े हुए लीडर्स, संयुक्त राष्ट्र संघ के सबसे बड़े अधिकारी अर्थात सेक्रेटरी जनरल- श्री एंटोनियो गुटेरेस (UN Secretary General- Antonio Guterres) , न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री- श्रीमती जैसिंडा अर्डर्न (New Zealand Prime Minister- Mrs. Jacinda Ardern), “बारबडोस” देश की प्रधानमंत्री- श्रीमती एमर मोटले (Barbados Prime Minister- Amor Mottley), अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति श्री अल गोर (Al Gore, Ex Vice President of USA) आदि सम्मिलित हुए थे ! इस कार्यक्रम के मुख्य विडियो को तो संयुक्त राष्ट्र संघ की वेबसाइट पर देखा जा सकता है किन्तु इस विडियो को यू ट्यूब पर भी देखा जा सकता है जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करे-

https://www.youtube.com/watch?v=DKYzEQqvHwg&feature=youtu.be

चूंकि इस कार्यक्रम के आयोजन (Sept 23 से 26 2019) की तैयारियां कई माह पूर्व से हो रही थी जबकि “स्वयं बनें गोपाल” समूह का “यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट” में आधिकारिक चयन एक विभिन्न स्तरीय अन्तराष्ट्रीय प्रक्रिया के पश्चात् 9 Sept 2019 को हुआ, जिसकी वजह से हमारे स्वयं सेवक इस कार्यक्रम में सम्मिलित नहीं हो सके !

लेकिन संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था “वर्ल्ड बैंक” (World Bank; https://www.worldbank.org/) और “आई एम् ऍफ़” (International Monetary Fund; https://www.imf.org/external/index.htm) ने एकसाथ मिलकर इस बार अक्टूबर (14 से 20 Oct 2019) महीने में अमेरिका के वाशिंगटन डी सी में जिस मीटिंग का आयोजन किया था उसमे शामिल होने लीडर्स की सूची में “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रधान स्वयं सेवक (अध्यक्ष) श्री परिमल पराशर जी का भी नाम है जिसे देखने के लिए कृपया वर्ल्ड बैंक की वेबसाइट पर दिए गए इस लिंक को क्लिक करें- https://www.worldbank.org/content/dam/meetings/external/annualmeeting/Participant-List.pdf

यह मीटिंग वर्ल्ड बैंक और आई एम् ऍफ़ द्वारा होने आयोजित होने वाली रेग्युलर मीटिंग्स की तुलना में अलग मानी गयी क्योकि संयुक्त राष्ट्र संघ की रेग्युलर मीटिंग्स में आम तौर पर 200 से 500 तक अतिथियों का सम्मिलित होना माना जाता हैं लेकिन यह मीटिंग एक विशेष उद्देश्य के तहत बड़े पैमाने पर आयोजित की गयी थी इसलिए इसमें संभवतः लगभग पूरे विश्व से 5000 ऐसे विशिष्ट व्यक्तित्व सम्मिलित हुए जिनके बारे में माना जा सकता है कि वे समाज की दिशा व दशा बदलने में अत्यंत सहायक हो सकतें हैं ! चूंकि अतिथियों की संख्या रेग्युलर मीटिंग्स की तुलना में ज्यादा थी इसलिए संभवतः वर्ल्ड बैंक ने, ना केवल सभी अतिथियों को पर्सनली “इवेंट पास” (Event Pass) ईमेल किया, बल्कि साथ ही साथ उनके नामों की लिस्ट को भी अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित किया (जिसका लिंक ऊपर दिया गया है) !

मीटिंग की सूची में सम्मिलित होने वाले लीडर्स की लगभग 5000 संख्या में, भारत देश से शामिल होने वाले सिविल सोसाइटीज लीडर्स (CSO) की संख्या मात्र 38 थी ! इन 38 भारतीय लीडर्स में “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रधान स्वयं सेवक (अध्यक्ष) श्री परिमल पराशर जी के अतिरिक्त- श्रीमती रोहिणी नीलकेनी (जो कि इनफ़ोसिस कम्पनी के सहसंस्थापक श्री नन्दन नीलकेनी की पत्नी और “एक स्टेप” फाउंडेशन की अध्यक्ष हैं), हिमांशु नागपाल (जो कि माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी के अध्यक्ष बिल गेट्स की संस्था “बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन इंडिया” के डिप्टी डायरेक्टर हैं), अरुण पंधी (जो कि रतन टाटा की अध्यक्षता वाली संस्था “टाटा ट्रस्ट्स” के “डायरेक्टर प्रोग्राम इम्प्लीमेंटेशन” हैं), अरिवुदै नाम्बी (जो कि “वर्ल्ड रिसोर्सेस इंस्टिट्यूट इंडिया” के डायरेक्टर हैं) आदि सम्मिलित हैं ! इस मीटिंग की कई आफिशियल विडियोज में से एक को यू ट्यूब पर देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://www.youtube.com/watch?v=vkhltvapKLg

इस मीटिंग में सम्मिलित होने वाले लगभग सभी संस्थाओं के अध्यक्षों ने इस मीटिंग से उत्पन्न हुए वैश्विक अवसरों के प्रति अपना दृष्टिकोण प्रकट किया है; जैसे- देखिये क्या कहना है “यूरोपियन इन्वेस्टमेंट बैंक” (European Investment Bank) का इस मीटिंग के बारे में (यह बैंक पूरे विश्व का सबसे बड़ा मल्टीलेटरल फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन है और इस मीटिंग में इस बैंक के प्रेसिडेंट- श्री वर्नर होयेर व 4 वाईस प्रेसिडेंट्स सम्मिलित हुए थे)- https://www.eib.org/en/events/eib-at-imf-wb-annual-meetings-2019#

फाइल चित्र सुश्री इवांका ट्रम्प

इस मीटिंग में वर्ल्ड बैंक व आई एम् ऍफ़ के सर्वोच्च अधिकारियों के अतिरिक्त कई देशों के मिनिस्टर्स, एम्बेसडर्स, नेशनल पालिसी मेकर्स के साथ – साथ अमेरिका के राष्ट्रपति श्री डॉनल्ड ट्रम्प की पुत्री सुश्री इवांका ट्रम्प भी सम्मिलित हुई थी ! सुश्री इवांका ट्रम्प वर्तमान में राष्ट्रपति श्री डॉनल्ड ट्रम्प की सलाहकार हैं !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रधान स्वयं सेवक (अध्यक्ष) श्री परिमल पराशर जी भी “एशियन डेवलपमेंट बैंक” से एक सलाहकार (Consultant) के तौर पर जुड़ चुकें हें और साथ ही साथ “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान भी “एशियन डेवलपमेंट बैंक” (www.adb.org) से एक सलाहकार संस्थान (Consulting Firm) के तौर पर जुड़ चुका है !

“एशियन डेवलपमेंट बैंक” लगभग 60 साल पुराना ऐसा बैंक है जो एशिया के विभिन्न देशों की सरकारों के माध्यम से आम जनमानस की भलाई के लिए विभिन्न परियोजनाओं की सहायता करता है ! इस बैंक का हेड ऑफिस फिलिपिन्स देश की राजधानी मनीला में स्थित है !

फाइल चित्र “एशियन डेवलपमेंट बैंक” के प्रेसिडेंट श्री ताकेहिको नकाओ

“एशियन डेवलपमेंट बैंक” से भारत समेत 68 अन्य देशों की सरकार सदस्य (Member) के तौर पर जुड़ी हुई हैं और इस बैंक ने पिछले वर्ष (2018) में लगभग 35 बिलियन यू एस डॉलर (अर्थात लगभग ढाई लाख करोड़ भारतीय रूपये) के विभिन्न सामाजिक कल्याण के कार्यों का एशिया के विभिन्न देशों में क्रियान्वन किया था ! अभी हाल में ही (29 अगस्त 2019 को) “एशियन डेवलपमेंट बैंक” के प्रेसिडेंट श्री ताकेहिको नकाओ ने भारत के प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी जी से मुलाक़ात करके अगले 3 वर्षों में भारत में 12 बिलियन यू एस डॉलर (लगभग 85 हजार करोड़) निवेश करने की योजना बनाई है !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रधान स्वयं सेवक (अध्यक्ष) श्री परिमल पराशर जी को “सी आई वी आई सी यू एस” (www.civicus.org) संगठन ने भी अपने मेम्बर (सदस्य) के तौर पर जोड़ लिया हैं ! यह संगठन पूरे विश्व के सिविल सोसाइटीज व वालंटियर्स (स्वयं सेवी संस्थाओं व स्वयं सेवकों) का 25 वर्षों से भी ज्यादा पुराना संगठन है ! इस संगठन की हेड ऑफिस जोहान्सबर्ग में स्थित है और 175 देशों में स्थित वे प्रसिद्द संस्थाएं व स्वयं सेवक इससे मेम्बर (सदस्य) के तौर पर जुड़े हुए हैं जो अपने अद्भुत सेवा कार्यो के लिए प्रसिद्द हैं !

“संयुक्त राष्ट्र संघ” की संस्था “यू एन वाटर” (U N Water; https://www.unwater.org/) की जेनेवा (स्विट्ज़रलैंड) स्थित हेडऑफिस की टेक्निकल एडवाइजरी यूनिट (Technical Advisory Unit) द्वारा 9 अक्टूबर 2019 को “स्वयं बनें गोपाल” समूह को भेजी गयी ईमेल में हमारे कार्यो को महत्वपूर्ण बताते हुए उसकी सफलता के लिए शुभकामनायें दी गयी हैं !

संयुक्त राष्ट्र की वो सभी संस्थाएं “यू एन वाटर” की मेम्बर (सदस्य) हैं जो किसी ना किसी तरीके से जल सम्बन्धित सरंक्षण व संवर्धन कार्यों को करतीं हैं, जैसे- डब्लू एच ओ (WHO), वर्ल्ड बैंक (World Bank), यूनिसेफ (UNICEF), यूनेस्को (UNESCO), यू एन एनवायरनमेंट (U N Environment), यू एन डी पी (UNDP), यूनाइटेड नेशन्स ह्यूमन राइट्स (United Nations Human Right), यू एन डब्लू टी ओ (UNWTO) आदि !

“संयुक्त राष्ट्र संघ” की खुद की फाईलेन्थ्रोपिक संस्था “यू एन फाउंडेशन” (UN Foundation; https://unfoundation.org/) की प्रेसिडेंट- कैथी कैल्विन जी और वाईस प्रेसिडेंट- होल्ले डार्दें जी ने ईमेल द्वारा “स्वयं बनें गोपाल” समूह की प्रशंसा व धन्यवाद करते हुए अपना आभार प्रकट किया है ! “यू एन फाउंडेशन” की हेड ऑफिस न्यूयॉर्क में है और यह फाउंडेशन पृथ्वी के सर्वविध कल्याण के लिए आवश्यक कदम उठाता रहता है !

तो ये रहा अनंत ममतामयी व प्रत्यक्ष जगदम्बा गौ माता का “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रति अब तक के अत्यंत स्नेहमय आशीर्वाद का परिणाम, जिसकी वजह से हमें परम आदरणीय ऋषि सत्ता व आप सभी का अतुलनीय प्रेम प्राप्त होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ !

अतः आप सभी आदरणीय पाठकों से “स्वयं बनें गोपाल” समूह सदैव यही विनम्र प्रार्थना करता है कि कृपया आप अपने प्रेम, स्नेह व मार्गदर्शन को कभी भी हम तुच्छ स्वयं सेवकों के प्रति कम नहीं होने दीजियेगा क्योंकि निश्चित तौर पर यही है हमारे लिए सबसे अमूल्य पूँजी !

जय हिन्द ! जय भारत माँ ! वन्दे मातरम !

जिन विश्वव्यापी संस्थाओं ने कई देशों की सरकार को अपना “मेम्बर” चुना, उन्ही संस्थाओं ने अब हमारे स्वयं सेवक को भी अपना “मेम्बर” व “स्टेक होल्डर” चुना

“संयुक्त राष्ट्र संघ” (United Nations) के उपक्रम ने “स्वयं बनें गोपाल” समूह के उल्लेखनीय कार्यों को अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया

“संयुक्त राष्ट्र संघ” (United Nations) द्वारा “स्वयं बनें गोपाल” समूह के स्वयंसेवक को “वर्ल्ड एनवायरनमेंट डे हीरो” चुना गया

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के स्वयं सेवक सम्मिलित होंगे “संयुक्त राष्ट्र संघ” (United Nations) की मीटिंग्स व कांफेरेंसेस में

कृपया हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

कृपया हमारे यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

कृपया हमारे ट्विटर पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

(आवश्यक सूचना – “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान की इस वेबसाइट में प्रकाशित सभी जानकारियों का उद्देश्य, सत्य व लुप्त होते हुए ज्ञान के विभिन्न पहलुओं का जनकल्याण हेतु अधिक से अधिक आम जनमानस में प्रचार व प्रसार करना मात्र है ! अतः “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान अपने सभी पाठकों से निवेदन करता है कि इस वेबसाइट में प्रकाशित किसी भी यौगिक, आयुर्वेदिक, एक्यूप्रेशर तथा अन्य किसी भी प्रकार के उपायों व जानकारियों को किसी भी प्रकार से प्रयोग में लाने से पहले किसी योग्य चिकित्सक, योगाचार्य, एक्यूप्रेशर एक्सपर्ट तथा अन्य सम्बन्धित विषयों के एक्सपर्ट्स से परामर्श अवश्य ले लें क्योंकि हर मानव की शारीरिक सरंचना व परिस्थितियां अलग - अलग हो सकतीं हैं)



You may also like...