संयुक्त राष्ट्र संघ के उपक्रम ने अपना पार्टनर बनाया “स्वयं बनें गोपाल” समूह को

United Nations FAO IAEA ICAO IFAD ILO IMO IMF ITU UNESCO UPU WBG WIPO WMO UNWTO UNODC WHO UNHCR newyork headquarters geneva head office WFP UNIDO UNOCHA UNOOSA UNODAआप सभी आदरणीय पाठकों को प्रणाम,

“संयुक्त राष्ट्र संघ” के उपक्रम “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” (UNFCCC NAIROBI WORK PROGRAMME) ने “स्वयं बनें गोपाल” समूह को अपना पार्टनर (Partner) नियुक्त किया है ! “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” की वेबसाइट पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह का विवरण देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://www4.unfccc.int/sites/NWPStaging/pages/item.aspx?ListItemId=28813&ListUrl=/sites/NWPStaging/Lists/MainDB

“संयुक्त राष्ट्र संघ” के इस उपक्रम का नामकरण वर्ष 2006 में नैरोबी (जो कि “कीनिया” देश की राजधानी है) में हुआ था इसलिए संभवतः इसका नाम “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” है पर इस उपक्रम का कार्यक्षेत्र पूरा विश्व है ! इस उपक्रम का हेडऑफिस जर्मनी देश में है ! इस उपक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://unfccc.int/topics/adaptation-and-resilience/workstreams/nairobi-work-programme-on-impacts-vulnerability-and-adaptation-to-climate-change#eq-4

“यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” मूलतः विश्व के जलवायु परिवर्तन सम्बन्धित मुद्दों पर अपने पार्टनर्स के सहयोग से कार्यवाही करता है ! और अपने इस प्रयास को अधिक से अधिक सफल बनाने के लिए लगभग 14 वर्ष पुराने “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” ने पूरे विश्व से ऐसे 396 चुनिन्दा संस्थाओं को अपना पार्टनर नियुक्त किया है जो उसके अभियान में अधिकतम सहायक हो सकें !

विश्व की कई सर्वोच्च स्तर की आर्गेनाइजेशन्स के अतिरिक्त, खुद संयुक्त राष्ट्र संघ की कई अन्य संस्थाएं भी “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” से पार्टनर के तौर पर जुड़कर कार्य कर रही हैं ! “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” के सभी पार्टनर्स यथोचित आपसी सहयोग व सामंजस्य से इसके लक्ष्य पूर्ती के लिए सतत प्रयास करते रहतें हैं !

आईये जानतें हैं “स्वयं बनें गोपाल” समूह के अतिरिक्त अन्य कुछ “यू एन ऍफ़ सी सी सी नैरोबी वर्क प्रोग्राम” के पार्टनर्स का नाम-

• इंटरनेशनल एटॉमिक एनर्जी एजेंसी (INTERNATIONAL ATOMIC ENERGY AGENCY; https://www.iaea.org/)

• यूनाइटेड नेशंस ऑफिस फॉर आउटर स्पेस अफेयर्स (UNITED NATIONS OFFICE FOR OUTERSPACE AFFAIRS; http://www.oosa.unvienna.org/)

• वर्ल्ड बैंक (WORLD BANK; http://www.worldbank.org/)

• माइक्रोसॉफ्ट (MICROSOFT; http://www.microsoft.com)

• ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी (OXFORD UNIVERSITY; http://www.ouce.ox.ac.uk/)

• स्वीडिश डिफेन्स रिसर्च एजेंसी (SWEDISH DEFENCE RESEARCH AGENCY; http://www.foi.se/FOI/)

• बी बी सी मीडिया एक्शन (BBC MEDIA ACTION; http://www.bbc.co.uk/mediaaction)

• एशियन डेवलपमेंट बैंक (ASIAN DEVELOPMENT BANK; http://www.adb.org/)

• यूरोपियन कमीशन जॉइंट रिसर्च सेण्टर (EUROPEAN COMMISSION JOINT RESEARCH CENTRE; https://ec.europa.eu/jrc/en)

• नेस्ले (NESTLÉ; http://nestle.com)

• वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाइजेशन (WORLD TRADE ORGANIZATION; https://www.wto.org)

• इंटर अमेरिकन डेवलपमेंट बैंक (INTER-AMERICAN DEVELOPMENT BANK; http://www.iadb.org/en/)

• यूनाइटेड नेशंस इंटरनेशनल स्ट्रेटेजी फॉर डिजास्टर रिडक्शन (UNITED NATIONS INTERNATIONAL STRATEGY FOR DISASTER REDUCTION; http://www.unisdr.org/)

• यूनाइटेड नेशंस हाई कमिश्नर फॉर रिफ्यूजी (UNITED NATIONS HIGH COMMISSIONER FOR REFUGEES; http://www.unhcr.org)

• यूनिसेफ (UNITED NATIONS CHILDREN’S FUND; http://www.unicef.org/)

• यूनाइटेड नेशंस वर्ल्ड टूरिज्म आर्गेनाइजेशन (UNITED NATIONS WORLD TOURISM ORGANIZATION; https://www.unwto.org/)

• जर्मन कमिटी फॉर डिजास्टर रिडक्शन (GERMAN COMMITTEE FOR DISASTER REDUCTION; http://www.dkkv.org/)

• अफ्रीकन डेवलपमेंट बैंक (AFRICAN DEVELOPMENT BANK; http://www.afdb.org)

• कॉमनवेल्थ सेक्रेटेरिएट (COMMONWEALTH SECRETARIAT; http://www.thecommonwealth.org/)

• यूनाइटेड नेशंस डेवेलपमेंट प्रोग्राम (UNITED NATIONS DEVELOPMENT PROGRAMME; http://www.undp.org/)

• यूनाइटेड नेशंस एनवायरनमेंट प्रोग्राम (UNITED NATIONS ENVIRONMENT PROGRAMME; http://www.unep.org/)

• यूनाइटेड नेशंस ह्यूमन सेटलमेंट प्रोग्राम (UNITED NATIONS HUMAN SETTLEMENTS PROGRAMME; http://www.unhabitat.org/)

• यूनाइटेड नेशंस इंस्टिट्यूट फॉर ट्रेनिंग एंड रिसर्च (UNITED NATIONS INSTITUTE FOR TRAINING AND RESEARCH; http://www.unitar.org/)

• यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज सेण्टर (UNESCO – WORLD HERITAGE CENTRE; http://whc.unesco.org/)

• यू एन इ सी इ (UNECE; http://www.unece.org/)

• फ़ूड एंड एग्रीकल्चरल आर्गेनाइजेशन ऑफ़ द यूनाइटेड नेशंस (FOOD AND AGRICULTURAL ORGANIZATION OF THE UNITED NATIONS; http://www.fao.org/)

• डब्लू एच ओ (WORLD HEALTH ORGANIZATION; http://www.who.int)

उपर्युक्त वर्णित संस्था के अतिरिक्त “स्वयं बनें गोपाल” समूह को विश्वप्रसिद्ध संस्था “वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” (Volunteer Groups Alliance) ने भी अपना मेम्बर (Member; सदस्य) चुन लिया है ! “वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” की वेबसाइट पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह का विवरण देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें (और ओपेन होने वाले पेज में “Members” कैटेगरी पर क्लिक करें)- https://forum-ids.org/about/vga/

United Nations FAO IAEA ICAO IFAD ILO IMO IMF ITU UNESCO UPU WBG WIPO WMO UNWTO UNODC WHO UNHCR newyork headquarters geneva head office WFP UNIDO UNOCHA UNOOSA UNODA“वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” के फोरम की स्थापना आज से 55 वर्ष पूर्व सन 1964 में हुई थी और उस समय इसका नेतृत्व “कौंसिल ऑफ़ यूरोप” (Council of Europe; यूरोपीय परिषद; https://www.coe.int/en/web/portal/home) करती थी (यूरोपीय परिषद एक सरकारी संस्था है जिसका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि पूरे यूरोप में कानून व अन्य मानवीय मूल्यों की व्यवस्था सदा बनी रहे ! यूरोप के 47 देशों की सरकार इस “कौंसिल ऑफ़ यूरोप” से सदस्य के तौर पर जुड़ी हुई हैं) !

वर्तमान में “वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था “यूनाइटेड नेशन्स वालंटियर्स” (United Nations Volunteers) द्वारा समर्थित है (“स्वयं बनें गोपाल” समूह के अध्यक्ष श्री परिमल पराशर जी भी संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था “यूनाइटेड नेशन्स वालंटियर्स” और “यूनाइटेड नेशन्स ऑनलाइन वालंटियरिंग” द्वारा स्वीकृत स्वयं सेवक हैं) !

संयुक्त राष्ट्र संघ व “कौंसिल ऑफ़ यूरोप” की नजर में बेहद प्रतिष्ठित माने जाने वाले “वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” ने वर्तमान में दुनिया के अलग – अलग हिस्सों से सिर्फ 64 स्वयं सेवी संस्थाओं को ही अपना “मेम्बर” बनाया हुआ है जिनमें भारतीय मूल से “स्वयं बनें गोपाल” ही है !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के अतिरिक्त “वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” के कुछ अन्य मेम्बर्स (Members) का परिचय इस प्रकार हैं-

• “यूनाइटेड नेशन्स वालंटियर्स” [(United Nations Volunteers; https://www.unv.org/) संयुक्त राष्ट्र संघ की यह संस्था “वालंटियर ग्रुप्स अलायन्स” की खुद एक मेम्बर भी है]

• पीस कॉर्प्स [(Peace Corps; https://www.peacecorps.gov/) यह अमेरिकन सरकार (USA Government) की एक सामाजिक सुख शान्ति उत्प्रेरित करने वाली संस्था है जिसका डायरेक्टर, अमेरिकन प्रेसिडेंट द्वारा चुना जाता है]

• सऊदी ग्रीन बिल्डिंग फोरम [(Saudi Green Building Forum; http://www.sgbf.sa/) यह एक सामजिक पुनर्निर्माण की संस्था है जिसके चेयरमैन सऊदी अरबिया देश के शाही परिवार के प्रिंस खालिद बिन हैं]

• इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ़ रेड क्रॉस एंड रेड क्रेसेंट सोसाइटीज [(International Federation of Red Cross and Red Crescent Societies; https://media.ifrc.org/ifrc) जेनेवा (स्विट्ज़रलैंड) आधारित इस संस्था को विश्व का सबसे बड़ा मानवीय नेटवर्क माना जाता है जो 7 मानवीय मूल्यों पर टिका है]

• ब्रिटिश कोलंबिया कौंसिल फॉर इंटरनेशनल कोऑपरेशन [(British Columbia Council for International Cooperation; https://www.bccic.ca/) यह कनाडा आधारित एक विश्वप्रसिद्ध स्वयंसेवी संस्था है]

• वालंटियरिंग विक्टोरिया [(Volunteering Victoria; https://www.volunteeringvictoria.org.au/) यह मेलबर्न (ऑस्ट्रेलिया) आधारित एक बेहद प्रसिद्ध परोपकारी संगठन है जिससे कई हजार स्वयं सेवक जुड़े हुए हैं]

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों को केवल ऊपर वर्णित संस्थाओं या पूर्व के लेखों में वर्णित संस्थाओं ने ही नहीं, बल्कि कई अन्य संस्थाओं ने भी सराहा है; आईये जानतें हैं उनके संक्षिप्त विवरण-

संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था “फ़ूड एंड एग्रीकल्चरल आर्गेनाइजेशन” ने “वर्ल्ड स्वायेल डे” (World Soil Day; विश्व मृदा दिवस) 5 दिसम्बर 2019 को “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रोजेक्ट “सेव आवर प्लेनेट” (Save Our Planet) को अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया है जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें (और ओपेन होने वाले पेज में प्रदर्शित वर्ल्ड मैप में इण्डिया में लखनऊ लोकेशन पर क्लिक करें)- http://www.fao.org/world-soil-day/worldwide-events/en/

संयुक्त राष्ट्र संघ की इस संस्था ने “वर्ल्ड स्वायेल डे” पर इस वर्ष अपनी वेबसाइट पर लगभग 100 देशों के 464 प्रोजेक्ट्स/इवेंट्स को ही प्रकाशित किया है जिनसे सम्बन्धित सोशल मीडिया पोस्ट्स को अब तक संयुक्त राष्ट्र संघ के आंकड़ों के अनुसार 40,00,00,000 (40 करोड़) से भी अधिक पाठक देख चुकें है !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के फाइलेंथ्रोपिक मूवमेंट “व्हू वी आर” (Who We Are) को संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था “यू एन वाटर” (U N WATER) ने “वर्ल्ड टॉयलेट डे” (World Toilet Day; विश्व शौचालय दिवस) 19 Nov 2019 पर अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया है जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://www.worldtoiletday.info/event/who-we-are/

समाज के विभिन्न आयामों के लिए बहुउपयोगी हमारे अभियान “व्हू वी आर” (Who We Are) को संयुक्त राष्ट्र संघ की एक अन्य संस्था “यू एन वीमेन” (U N WOMEN) के उपक्रम “एमपावर वीमेन” (Empower Women) ने भी अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित किया है ! “एमपावर वीमेन” महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए कार्य करती है और पूरे विश्व में (खासकर महिलाओं में) बेहद प्रसिद्ध है !

“एमपावर वीमेन” ने पिछले 7 वर्षों में मात्र जिन 568 गतिवधियों/इवेंट्स का प्रकाशन अपनी वेबसाइट पर स्वीकृत किया है उसमें से एक आपकी अपनी संस्था “स्वयं बनें गोपाल” समूह की भी है, जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://www.empowerwomen.org/en/community/events-opportunities/2019/07/who-we-are

“यू एन वीमेन” की “यू के” ब्रांच (UN Women UK) द्वारा भी 26 नवम्बर 2019 को “स्वयं बनें गोपाल” समूह को भेजी गयी इमेल में “स्वयं बनें गोपाल” को शुभकामनाएं दीं गयीं हैं !

हमारे इस अभियान को एक अन्य विश्वविख्यात महिला सशक्तिकरण संस्था “सेण्टर फॉर विमेंस ग्लोबल लीडरशिप” (Center for Women’s Global Leadership) ने भी अपने द्वारा चलाए अभियान “ग्लोबल 16 डेज कैंपेन” (GLOBAL 16 DAYS CAMPAIGN) की वेबसाइट पर प्रकाशित किया है !

“सेण्टर फॉर विमेंस ग्लोबल लीडरशिप” द्वारा यह अभियान 16 दिनों के लिए हर वर्ष 25 नवम्बर (जो कि महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस है) से 10 दिसम्बर (अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस) तक पूरे विश्व में चलाया जाता है ! “सेण्टर फॉर विमेंस ग्लोबल लीडरशिप” का मुख्यालय “न्यू जर्सी” अमेरिका में है ! “ग्लोबल 16 डेज कैंपेन” की वेबसाइट पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह के इस अभियान को देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://16dayscampaign.org/event/who-we-are/

अमेरिका के वाशिंगटन डी सी स्थित “जार्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी” (George Washington University; https://www.gwu.edu/) के उपक्रम “ग्लोबल विमेंस इंस्टिट्यूट (Global Women’s Institute) ने 27 नवम्बर 2019 को “स्वयं बनें गोपाल” समूह को इमेल करके हमारे कार्यों की सराहना व प्रशंसा की तथा अपने रिसर्च वर्क में हमारे साथ मिलकर काम करने की इच्छा भी जताई है !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के स्वास्थ्य सम्बन्धित अभियान को “यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज डे” (Universal Health Coverage Day) 12 दिसम्बर पर भी प्रकाशित किया गया है ! “यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज डे” संयुक्त राष्ट्र संघ के ऐतिहासिक व सामूहिक स्वास्थ्य अभियान का परम प्रसिद्ध उत्सव है जिससे पूरे विश्व में स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करने वाले लगभग सभी एक्सपर्ट्स व प्रोफेशनल्स भलीभांति परिचित है ! “यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज डे” की वेबसाइट पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह का विवरण देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- https://universalhealthcoverageday.org/blog/2019/12/12/svyam-bane-gopal/

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के स्वास्थ्य सम्बन्धित अभियान को विश्वप्रसिद्ध संस्था “इंटरनेशनल डायबिटीज फेडरेशन” (The International Diabetes Federation) ने भी “वर्ल्ड डायबिटीज डे” (World Diabetes Day, विश्व मधुमेह दिवस) 14 नवम्बर 2019 पर अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित किया है !

“इंटरनेशनल डायबिटीज फेडरेशन” लगभग 70 वर्ष पुरानी संस्था है जिससे 170 देशों की 230 संस्थाएं जुड़ी हुईं हैं ! इसकी वेबसाइट पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह का विवरण देखने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें (और ओपेन होने वाले पेज में प्रदर्शित वर्ल्ड मैप में इण्डिया में लखनऊ लोकेशन पर क्लिक करें)- https://www.idf.org/wdd-events/

उपर्युक्त वर्णित संस्थाओं के अतिरिक्त “स्वयं बनें गोपाल” समूह का आर्गेनाइजेशनल प्रोफाइल कई अन्य संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्थाओं द्वारा स्वीकृत हुआ है, जैसे- “यूनाइटेड नेशंस बिज़नेस एक्शन हब” (United Nations Business Action Hub), “डब्लू एस एस सी सी” (WSSCC ; Water Supply and Sanitation Collaborative Council), “यू एन डी इ एफ” (UNDEF; United Nations Democracy Fund), “ग्लोबल डेव हब” (Global Dev Hub), “यू एन जी एम” (UNGM; United Nations Global Marketplace) आदि !

जल के सरंक्षण पर पिछले 13 वर्षों से वैश्विक स्तर पर कार्य करने वाली संस्था “वन ड्राप” (One Drop; https://www.onedrop.org/en/) ने 25 नवम्बर 2019 को इमेल करके “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों को “महान” बताया ! “वन ड्राप” संस्था की हेड ऑफिस कनाडा देश में हैं और इस संस्था के विभिन्न प्रोजेक्ट्स जल्द ही 13 देशों के लगभग 16 लाख लोगों के जीवन में सुधार लाने वालें हैं !

“न्यू यॉर्क” (अमेरिका) स्थित जल के सरंक्षण पर पिछले 14 वर्षों से कार्य करने वाली संस्था “चैरिटी वाटर” (Charity Water; https://my.charitywater.org/) ने भी इमेल करके “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों की प्रशंसा व सराहना की है ! “चैरिटी वाटर” ने लगभग 28 देशों में 44000 प्रोजेक्ट्स के संचालन में भूमिका निभाई है !

United Nations FAO IAEA ICAO IFAD ILO IMO IMF ITU UNESCO UPU WBG WIPO WMO UNWTO UNODC WHO UNHCR newyork headquarters geneva head office WFP UNIDO UNOCHA UNOOSA UNODAहॉलीवुड के विश्वप्रसिद्ध हीरो लियोनार्डो डीकैप्रियो (Leonardo DiCaprio; जो कि टाईटेनिक मूवी के मुख्य अभिनेता थे) की पर्यावरणीय संस्था “अर्थ अलायन्स” (Earth Alliance) ने भी “स्वयं बनें गोपाल” समूह को ईमेल भेजकर “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यो की प्रशंसा करते हुए धन्यवाद दिया है और अपना आभार भी प्रकट किया है !

“अर्थ अलायन्स” संस्था की वेबसाइट का लिंक, लियोनार्डो डीकैप्रियो के फेसबुक पेज पर दिया गया है जिसे देखने के लिए कृपया इस लिंक को क्लिक करें- https://www.facebook.com/LeonardoDiCaprio/?ref=br_rs

“अर्थ अलायन्स” ने अपने ईमेल में “स्वयं बनें गोपाल” समूह के बारे में लिखा है कि- “We are grateful for your passion, and encourage you to continue to support our shared goal of a more sustainable planet” अर्थात- हम आपके जोश के लिए आपके आभारी हैं, तथा चिरस्थायी धरती से सम्बन्धित हमारे और आपके एक जैसे उद्देश्य की लगातार सहायता करने के लिए हम आपकी सराहना भी करते हैं !

अभी हाल में ही लियोनार्डो डीकैप्रियो ने भारत के विश्वप्रसिद्ध संत श्री जग्गी वासुदेव जी (संस्थापक ईशा फाउंडेशन) के पर्यावरणीय अभियान “कावेरी कॉलिंग” का भी सपोर्ट किया था (श्री जग्गी वासुदेव जी “संयुक्त राष्ट्र संघ” के समाज निर्माण के कार्यों में भी काफी सक्रीय रहतें है) !

लियोनार्डो डीकैप्रियो पिछले कई वर्षों से पर्यावरण को बचाने के अपने विश्वस्तरीय अभियान में लगे हुए हैं और उनके इस अभियान से सम्बन्धित कई कार्यक्रमों को नेशनल टेलीविज़न चैनल्स व यू ट्यूब पर भी देखा जा सकता है (इनमें से कुछ वीडियोज के लिंक्स इस प्रकार हैं- https://www.youtube.com/watch?v=akdL5HB5LAA

https://www.youtube.com/watch?v=6FzsYiiIa4c&t=179s

https://www.youtube.com/watch?v=vTyLSr_VCcg

डेनमार्क देश के विदेश मंत्रालय (MINISTRY OF FOREIGN AFFAIRS) के एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर श्री हेल्ले आउटजेन द्वारा भी 28 अक्टूबर 2019 को भेजी गयी ईमेल में “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों के लिए शुभकामनायें दी गयीं है ! डेनमार्क एक यूरोपियन देश है जो कि जर्मनी देश से सटा हुआ है !

अमेरिकन सरकार (USA Government) की संस्था “यू एस ऐड” (USAID; https://www.usaid.gov/) द्वारा 26 नवम्बर 2019 को “स्वयं बनें गोपाल” समूह को भेजी गयी 2 इमेल्स में “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों की सराहना की गयी है ! पहली इमेल “ब्यूरो ऑफ़ फ़ूड सिक्योरिटी” (Bureau for Food Security) द्वारा भेजी गयी है जिसमें “स्वयं बनें गोपाल” समूह के कार्यों के लिए शुभकामनाए दी गयी हैं और दूसरी इमेल सीनियर पार्टनरशिप एडवाइजर (Senior Partnerships Advisor) द्वारा भेजी गयी है जिसमें “स्वयं बनें गोपाल” समूह को कहा गया है कि- “Thank you also for your efforts to make the world a better place” अर्थात- विश्व को एक बेहतर स्थान बनाने वाले आपके कार्यों के लिए आपको धन्यवाद है” !

तो ये रहा परम आदरणीय गोमाता, ऋषि सत्ता और आप सभी पाठकों के “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रति अपार प्रेम व आशीर्वाद का परिणाम ! अतः बारम्बार यही विनम्र निवेदन है आप सभी आदरणीय पाठकों से कि “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रति आपके प्रेम व आशीर्वाद को कभी भी कम नही होने दीजियेगा !

जय हिन्द ! जय भारत माँ ! वन्दे मातरम् !

संयुक्त राष्ट्र संघ के दूसरे उपक्रम ने भी “स्वयं बनें गोपाल” समूह को अपना पार्टनर बनाया

यूनेस्को, यू एन हैबिटेट, एशियन डेवलपमेंट बैंक, यू एन ग्लोबल कॉम्पैक्ट, सिविकस, वर्ल्ड बैंक, आई एम ऍफ़, यू एन वाटर, यू एन फाउंडेशन और “स्वयं बनें गोपाल”

जिन विश्वव्यापी संस्थाओं ने कई देशों की सरकार को अपना “मेम्बर” चुना, उन्ही संस्थाओं ने अब हमारे स्वयं सेवक को भी अपना “मेम्बर” व “स्टेक होल्डर” चुना

“संयुक्त राष्ट्र संघ” (United Nations) के उपक्रम ने “स्वयं बनें गोपाल” समूह के उल्लेखनीय कार्यों को अपनी विश्वप्रसिद्ध वेबसाइट पर प्रकाशित किया

“संयुक्त राष्ट्र संघ” (United Nations) द्वारा “स्वयं बनें गोपाल” समूह के स्वयंसेवक को “वर्ल्ड एनवायरनमेंट डे हीरो” चुना गया

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के स्वयं सेवक सम्मिलित होंगे “संयुक्त राष्ट्र संघ” (United Nations) की मीटिंग्स व कांफेरेंसेस में

कृपया हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

कृपया हमारे यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

कृपया हमारे ट्विटर पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

(आवश्यक सूचना – “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान की इस वेबसाइट में प्रकाशित सभी जानकारियों का उद्देश्य, सत्य व लुप्त होते हुए ज्ञान के विभिन्न पहलुओं का जनकल्याण हेतु अधिक से अधिक आम जनमानस में प्रचार व प्रसार करना मात्र है ! अतः “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान अपने सभी पाठकों से निवेदन करता है कि इस वेबसाइट में प्रकाशित किसी भी यौगिक, आयुर्वेदिक, एक्यूप्रेशर तथा अन्य किसी भी प्रकार के उपायों व जानकारियों को किसी भी प्रकार से प्रयोग में लाने से पहले किसी योग्य चिकित्सक, योगाचार्य, एक्यूप्रेशर एक्सपर्ट तथा अन्य सम्बन्धित विषयों के एक्सपर्ट्स से परामर्श अवश्य ले लें क्योंकि हर मानव की शारीरिक सरंचना व परिस्थितियां अलग - अलग हो सकतीं हैं)



You may also like...