एक्युप्रेशर के कुछ विशेष पॉइंट्स

· April 28, 2015

एक्यूप्रेशर जो भारतीय आयुर्वेद के अंतर्गत वर्णित मर्दन विद्या (जिसे आज की आम बोलचाल भाषा में समझने के लिए मालिश कहा जा सकता है) का ही अधूरा रूप है !

भारतीय मर्दन विद्या के अंतर्गत विभिन्न जड़ी बूटियों युक्त तेल व घी आदि के विशिष्ट विधि से मर्दन करने पर लाइलाज रोगों में भी चमत्कारी लाभ मिलता था पर बीतते समय के साथ इसमें से बहुत से ज्ञान का लोप हो गया, जिसका परिणाम है आज की आधुनिक एक्यूप्रेशर चिकित्सा पद्धति जिसमें बिना तैलीय पदार्थों के इस्तेमाल को किये हुए सिर्फ कुछ विशेष पॉइंट्स को दबाया जाता है !

आधुनिक एक्यूप्रेशर अवधारणा के अंतर्गत कुल 365 पॉइंट्स माने जातें है जिनमे से कुछ पॉइंट्स, काफी असरदार और कई रोगो में फायदेमंद होते हैं ! आइए जानते है इन पॉइंट्स के बारे में –

जीवी 20 या डीयू 20 (acupressure point gv 20 or acupressure point du 20 – सिर के ठीक ऊपर बीचोंबीच) –

फायदा – याददाश्त बढ़ाता है, चिड़चिड़ापन, डिप्रेशन, हाइपर एक्टिविटी को कम कर मन को शांत करता है। पढ़ने वाले बच्चों के लिए खासतौर पर असरदार है ! यह सारे पॉइंट्स का कंट्रोलिंग पॉइंट भी है, इसलिए इसे हर बीमारी में दबाया जाता है (acupressure points for memory, acupressure points for irritability, acupressure points for depression, acupressure points for hyperactivity, acupressure points for peace of mind, acupressure points for concentration, acupressure points for mind relaxation, acupressure point for sharp mind, acupressure points for sharp memory, acupressure points for brain power, acupressure points for all diseases) !

जीबी 20 (acupressure point gb20- कान के पीछे के झुकाव में) –

फायदा – डिप्रेशन, सिरदर्द, चक्कर और सेंस ऑर्गन यानी नाक, कान और आंख से जुड़ी बीमारियों में राहत। दिमागी असंतुलन, लकवा, और यूटरस की बीमारियों में असरदार (acupressure points for depression, acupressure points for headache, acupressure points for vertigo, acupressure points for sense organs, acupressure points for nose, acupressure points for ear pain, acupressure points for eye power, acupressure points for improving eyesight, acupressure points for mental stress, acupressure points for mental health, acupressure points for mental fatigue, acupressure points for mental balance, acupressure points for mental power, acupressure points for paralysis, acupressure points for uterus problems) !

एलआई 11 (acupressure point LI11 – एल्बो व कोहनी क्रीज के बाहरी हिस्से पर) –

फायदा- कॉलेस्ट्रॉल, ब्लडप्रेशर, गले में इन्फेक्शन, यूरिन इन्फेक्शन, उलटी, डायरिया, हिचकी, पीलिया, खून की कमी आदि में। खून से संबंधित हर बीमारी में कारगर। इम्यूनिटी बढ़ाता है (acupressure points for cholesterol, acupressure points for blood pressure, acupressure points for throat infection, acupressure points for urine infection, acupressure points for vomiting and nausea, acupressure points for diarrhea, acupressure points for hiccups, acupressure points for jaundice, acupressure points for anemia, acupressure points for all blood related problems, acupressure points for immune system) !

एसटी 36 (acupressure point stomach 36 or ST36 – घुटने से चार उंगली नीचे, बाहर की तरफ) –

फायदा – इसे टोनिफिकेशन पॉइंट भी कहा जाता है। इस पर रोजाना मसाज करने से कई बीमारियों से बचा जा सकता है। फौरन स्टैमिना बढ़ाता है। थकान और लंबी बीमारी के बाद ठीक होने में मदद करता है। पेट की बीमारियों और लूज मोशंस में है असरदार (acupressure points for tonification, acupressure points for protection from diseases, acupressure points for stamina, acupressure points for tiredness, acupressure points for fatigue, acupressure points for exhaustion, acupressure points for will power, acupressure points for digestion, acupressure points for stomach pain, acupressure points for stomach problems, acupressure points for stomach gas, acupressure points for abdominal gas, acupressure points for abdominal pain, acupressure points for abdominal cramps, acupressure points for digestive problems, acupressure points for acidity, acupressure points for loose motion, acupressure points for dysentery) !

दस्त में स्टमक 25 (acupressure point stomach 25, नाभि के दोनों तरफ तीन उंगली की दूरी पर) भी काफी फायदेमंद है (इसका चित्र ऊपर देखें) !

लिव 3 (acupressure point liver 3 or liv3 acupressure point, पैर में अंगूठे और साथ वाली उंगली के बीच में, तीन उंगली ऊपर की तरफ) –

फायदा – इमोशन कंट्रोल, पीरियड्स की तकलीफ, शरीर में जकड़न और आंखों की बीमारियां में फायदेमंद। हेपटाइटिस, पीलिया, लिवर से जुड़ी प्रॉब्लम में है असरदार (acupressure points for emotional healing, acupressure points for emotional release, acupressure points for emotional well being, acupressure points for emotional pain, acupressure points for periods pain, acupressure points for menstrual cramps, acupressure points for menstrual cycle, acupressure points for menstrual cramps, acupressure points for menstrual bleeding, acupressure points for menses, acupressure points for menopause, acupressure points for menstrual stress, acupressure points for menstrual pain, acupressure points for painful periods, acupressure points for menstrual problems, acupressure points for body balance, acupressure points for body aches, acupressure points for body tightness, acupressure points for tightness, acupressure points for eye power, acupressure points for improving eyesight, acupressure points for hepatitis, acupressure points for liver, acupressure points for liver disease, acupressure points for liver fire, acupuncture points for liver related problems) !

चेतना पॉइंट (हाथ में कलाई और कोहनी के बिल्कुल बीचोबीच) –

फायदा – चेतना पॉइंट (acupressure chetna point) को दबाने से 30-35 साल की उम्र के बाद बुढ़ापा आने की रफ्तार कम हो जाती है। यह नींद लाने में भी मदद करता है (acupressure points for youthful skin, acupressure points for youth, acupressure points for youthful face, acupressure points for juvenile, acupressure points for older adults, acupressure points for old ageing, acupressure points for beautiful skin, acupressure points for beautiful face, acupressure points for beauty, acupressure points for beautiful hair, acupressure points for looking younger, acupressure points for younger face, acupressure points for younger face, Anti Aging Acupressure Points for Dry Skin and Wrinkles, More Beautiful: Facial Acupressure, Face Yoga Acupressure Techniques for Younger Skin, Acupressure Points for Healthy Skin, beautiful face acupressure points, acupressure points for always young, acupressure points for sleep, acupressure points for sleep healing, acupressure points for sleep problems, acupressure points for good sleep, acupressure points for inducing sleep, acupressure points for getting sleep, acupressure points for baby sleep, pressure points for instant sleep, pressure points for lack of sleep, acupressure points for sound sleep, acupressure points for insomnia, acupressure points for restful sleep) !

SP-6 (sp6 acupressure point or acupressure point Spleen 6 Point, एड़ी से तीन इंच ऊपर स्थित बिंदु पर) –

फायदा – चिंता या टेंशन से निजात पाने के लिए। इस पर दबाव या मसाज करने से आप तुरंत स्ट्रेस से मुक्त हो सकते हैं (acupressure points for stress, acupressure points for anxiety, acupressure points for stress management, acupressure points for stress relief, acupressure points for mental stress, acupressure points for tension, acupressure points for restlessness, acupressure points for mental health, acupuncture points for mental illness, acupressure points for mental disorder, acupressure points for mental disorder, acupuncture points for stress incontinence) !

माथे के बीचो बीच (acupressure points on forehead)-

फायदा – मासिक सम्बंधित समस्याओं में काफी लाभकारी है (acupressure points for periods pain, acupressure points for menstrual cramps, acupressure points for menstrual cycle, acupressure points for menstrual cramps, acupressure points for menstrual bleeding, acupressure points for menses, acupressure points for menopause, acupressure points for menstrual stress, acupressure points for menstrual pain, acupressure points for painful periods, acupressure points for menstrual problems) !

मिचली आने पर हथेली के नीचे दबाएं –

मिचली या फिर सुबह महसूस होने वाली सुस्ती का इलाज एक्यूप्रेशर से किया जा सकता है। कलाई के नीचे से होकर जाने वाली हड्डियों के बीच के हिस्से को दबाएं (acupressure points for vomiting, acupressure points for nausea, acupressure points for weakness, Immune System Boosting using Acupressure Points & Methods, Acupressure Points to Treat Dizziness Fainting, Acupressure Points for Relieving Chronic Fatigue Syndrome, acupressure points for nerve weakness, acupressure points for nervous weakness, acupressure points for weak legs, acupressure points for muscle weakness, acupressure points for body weakness, acupressure points for general weakness, acupressure points for physical weakness) !

सिर दर्द में गर्दन का ऊपरी हिस्सा दबाएं: सिर की हड्डी के नीचे पिछली ओर थोड़ी खाली जगह होती है। इसे दोनों ओर से अंगुठे और उंगली से दबाएं। उंगली के बीच में तीन इंच का अंतर रखें। इस दौरान दो मिनट तक गहरी सांस लेते रहें। सिरदर्द दूर हो जाएगा (acupressure points for headache, acupressure points for headache due to gas, acupressure points for headache during pregnancy, acupressure points for headache due to stress, acupressure points for headache relief, acupressure points for headache due to cold, acupressure points for headache due to acidity) !

डायबिटीज (मधुमेह अर्थात शूगर लेवल) कंट्रोल करने के लिए कुछ पॉइंट्स –

-पहला पॉइंट पैर के अंदरूनी हिस्से में होता है। इसे किडनी-3 प्वाइंट (kidney 3 acupressure point) भी कहा जाता है !

इस पॉइंट को रोज 5 मिनट दबायें ! यह प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है और थकान (immune system and weariness, langour, ennui, exhaustion, fag, fatigue, lassitude, strain, stress, tiredness) को दूर भगाता है !

– दूसरा प्वाइंट पैर के निचले हिस्से के सामने की तरफ बाहरी ओर होता है।

इसे स्टमक-40 एक्यूप्रेशर प्वाइंट (stomach 40 acupressure point) भी कहते हैं! इस पॉइंट को भी रोज 5 मिनट दबायें !

यह शरीर से विषाक्त पदार्थों (टॉक्सिन) और अवांछित स्राव को को बाहर निकालता है (acupressure points for toxins, acupressure points for removing toxins, acupressure points for detoxification, acupressure points for detox) !

– तीसरा पॉइंट पैर के निचले हिस्से के अंदरूनी भाग में होता है। इसे स्‍प्‍लीन-6 प्वाइंट (sp6 acupressure point or acupressure point Spleen 6 Point) भी कहते हैं। इसे करने से किडनी, लीवर और प्लीहा से संबंधित विकार समाप्त होते हैं ! इस पॉइंट को भी रोज 5 मिनट दबायें (acupressure points for spleen, acupressure points for kidney, acupressure points for kidney problems, acupressure points for kidney disease, acupressure points for kidney and bladder, acupressure points for kidney infection, acupressure points for kidney and liver, acupuncture points for liver related problems) !

– चौथा पॉइंट पैर के अंगूठे और उसके बगल की छोटी उंगली के बीच में होता है। इसे लीवर-3 प्रेशर (acupressure point liver 3 or liv3 acupressure point) भी कहते हैं। इस पॉइंट को भी रोज 5 मिनट दबायें (acupressure points for diabetes, acupressure points for diabetes cure, acupressure points for diabetes control, acupressure points for diabetes mellitus, acupressure points for diabetes in hindi, acupressure points for diabetes on hand, acupressure points for sugar, acupressure points for sugar control, acupressure points for sugar patient, acupressure points for blood sugar control, acupressure points for blood sugar, acupressure points for sugar cravings, acupressure points for high blood sugar) !

(आवश्यक सूचना – “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान की इस वेबसाइट में प्रकाशित सभी जानकारियों का उद्देश्य, सत्य व लुप्त होते हुए ज्ञान के विभिन्न पहलुओं का जनकल्याण हेतु अधिक से अधिक आम जनमानस में प्रचार व प्रसार करना मात्र है ! अतः “स्वयं बनें गोपाल” संस्थान अपने सभी पाठकों से निवेदन करता है कि इस वेबसाइट में प्रकाशित किसी भी यौगिक, आयुर्वेदिक, एक्यूप्रेशर तथा अन्य किसी भी प्रकार के उपायों व जानकारियों को किसी भी प्रकार से प्रयोग में लाने से पहले किसी योग्य चिकित्सक, योगाचार्य, एक्यूप्रेशर एक्सपर्ट तथा अन्य सम्बन्धित विषयों के एक्सपर्ट्स से परामर्श अवश्य ले लें क्योंकि हर मानव की शारीरिक सरंचना व परिस्थितियां अलग - अलग हो सकतीं हैं)





ये भी पढ़ें :-



[ajax_load_more preloaded="true" preloaded_amount="3" images_loaded="true"posts_per_page="3" pause="true" pause_override="true" max_pages="3"css_classes="infinite-scroll"]