Author: Svyam Bharat

mamma mom momma mother mum mummy male female parents MA Mama ma mama boy son sonny pa papa pop dad daddy father family love affection care household kin name establishment couple

एक माँ – पुत्र के विछोह की असीम पीड़ायुक्त संवाद

{नोट- पहली कविता “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़े हुए एक आदरणीय स्वयं सेवक द्वारा रचित है पर उन्होंने हमसे अपने नाम को प्रकाशित ना करने का अनुरोध किया है इसलिए हम उनकी कविता...

pure indian breed cow urine dung business desi gaay mata deshi gay ma gobar urine gomutra diseases cure treatment cancer hiv aids money wealth gau seva sewa dharm butter milk curd dairy

सिर्फ एक गाय माता के गोबर से भी 10 हजार/महीने कमाइए

कहने को समाज बहुत ज्यादा पढ़ लिख गया है पर आज भी बहुत सी चीजों के बारे में लोगों को मामूली सी भी जानकारी नहीं है जिसका एक बड़ा उदाहरण है गाय माता से...

hare krishna hare rama radha barsana braj vraj shiva parwati devta deity god ishwar ishvar bhagvan puja patha laddu bal gopal govind worship peace movement procession ngo organisation temple

आश्चर्यजनक सत्य कथा : मै हूँ न

(“स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़े एक स्वयं सेवक की सत्य आत्मकथा)- आज से लगभग 8 – 9 वर्ष पूर्व, कंपनी के जर्मनी हेडक्वाटर के नित्य बदलते फैसले की वजह से अचानक कुछ महीने...

god real inner peace spirituality religion sadness emotional breakdown apathy sorrow happiness joy enjoy hopelessness relish moral ethical suicide death ghost bhut bhoot pret devil murder kill revolver armor

अगर आप भी आत्महत्या को सभी मुश्किलों का अंत समझते हों तो, कृपया यह लेख जरूर पढ़ें

इस संसार के कई दुखद सत्यों में से एक सत्य यह भी है कि यहाँ कब, कहाँ, कौन व्यक्ति (चाहे वह ऊपर से दिखने में कितना भी धनी, स्वस्थ या सुखी क्यों ना हो)...

rishi satta worship devotion spirituality real alien ufo universe indian divine saint sadhu sanyasi baba radha krishna braj vraj vrindavan

ऋषि सत्ता की आत्मकथा (भाग 6): त्रैलोक्य मोहन रूप में आयेगें तो मृत्यु ही मांगोगे

(विशेष अवसर पर गोलोक वासी ऋषि सत्ता की अत्यंत दयामयी कृपा से प्राप्त आपबीती दुर्लभ अनुभव का अंश विवरण)- मेरे अपने पार्थिव देह को छोड़ने अर्थात मृत्यु के बाद जब तक मैं अपनी गोलोक...

ngo svyam bane gopal process Indian Hindi Hindu spirituality religion religious temple

जानिये, स्वयं को गोपाल बनाने वाली महा दैवीय प्रकिया के बारे में

गोपाल अर्थात ईश्वर अनंत है इसलिए कोई भी जीवात्मा साकार रूप में, कभी भी पूरी तरह से परमात्मा का पूर्ण रूप प्राप्त कर ही नहीं सकती है ! यही वजह है कि आज भी...