Monthly Archive: June 2017

जिसे हम उल्कापिंड समझ रहें हैं, वह कुछ और भी तो हो सकता है

(लम्बे समय से ब्रह्मांड सम्बंधित सभी पहलुओं पर रिसर्च करने वाले “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़े कुछ शोधकर्ताओं के निजी विचार)- ब्रह्मांड एक से बढ़कर एक रहस्यों से भरा पड़ा है और ये...

पिता हों तो ऐसे

आईये जानते हैं सबसे पहले कि परम आदरणीय हिन्दू धर्म के अनुसार, पिता कहतें किसे हैं– पिता- ‘पा रक्षणे’ धातु से ‘पिता’ शब्द निष्पन्न होता है अर्थात ‘य: पाति स पिता’ जो रक्षा करता...