Monthly Archive: August 2016

मातृ भूमि कि रक्षा के लिए अंतरात्मा कर रही पुकार कि,- “स्वयं बनें गोपाल”

साल में एक बार गोपाल जी का जन्म महोत्सव खूब भव्य चकाचौंध के साथ से मना लेने से या घर पर कोई पंडित बुलाकर गलत सही मंत्रोच्चार वाली पूजा रोज करवाने से, आज तक...

उधार के मगरमच्छ

(नोट – आज के इस अनिश्चित युग में कभी भी किसी के साथ कुछ भी अनहोनी अचानक से हो सकती है इसलिए उधार की जरूरत तो किसी को भी पड़ सकती है लेकिन इसका...

आँखों की रोशनी तेज करने का बेहद आसान उपाय

अगर आँखों में कोई बड़ा रोग ना लगा हो तो इस उपाय को करने से 1 महीने में ही स्पष्ट फायदा दिखने लगता है ! इसे नियमित करने से आँखों की रोशनी धीरे धीरे...

आखिर एलियंस से सम्बन्ध स्थापित हो जाने पर कौन सा विशेष फायदा मिल जाएगा ?

इसका उत्तर अच्छी तरह से वही समझ सकता है जो मर रहा हो ! वैज्ञानिकों के लिए अबूझ बनें हैं हमारे द्वारा प्रकाशित तथ्य क्योंकि मरते समय 99.99 प्रतिशत व्यक्ति बहुत पछताते हैं कि,...

प्रशांत किशोर का अभिमान गरुड़ की तरह है

जैसे एक बार भगवान विष्णु के वाहन गरुड़ को घमण्ड हो गया था कि जो सबका बोझ उठाने वाले नारायण हैं उनका बोझ मै उठाता हूँ इसलिए मैं निश्चित रूप से अति विशिष्ट हूँ...

कोई भी समझदार देशभक्त इस भुलावे में नहीं रहता कि इज्जत मेरी है, ना कि मेरी देशभक्ति की

अभी मोदी जी का गो सेवकों पर जो बयान सुनने को मिला कि 80 परसेंट गो सेवक, गो सेवा कि आड़ में अनैतिक कामों में व्यस्त हैं, उस बयान की निन्दा हर देशभक्त कर...

Our research group finds U.F.O. and Aliens’ footprints.

{This article is English version of previously published article titled– यू एफ ओ, एलियंस के पैरों के निशान और क्रॉस निशान मिले हमारे खोजी दल को which was published on 7th August 2016 on...

 यू एफ ओ, एलियंस के पैरों के निशान और क्रॉस निशान मिले हमारे खोजी दल को

जैसा कि हमने पूर्व के कई लेखों (उनमें से कुछ लेखों के लिंक्स नीचे दिए गएँ हैं) में बताया था कि अगस्त 2016 के प्रथम सप्ताह में उदय होने वाला यह नक्षत्र इस बार...

मरे हुए को जिन्दा करने की विद्या : मृत संजीवनी विद्या

मृत्युंजय मन्त्र साधना और मृत संजीवनी मन्त्र साधना दोनों अलग अलग साधना है ! हमारे परम आदरणीय हिन्दू धर्म के दुर्लभ शास्त्र कहते हैं की मृत्युंजय मन्त्र साधना में जिन्दा आदमी की किसी भी...

भारत अश्वमेध यज्ञ शुरू करो और पड़ोसियों को अत्याचार से मुक्त कराओ

वसुधैव कुटुम्बकम्, यही हमारी भारतीय सनातन धर्म की सदैव से परम्परा रही है और इसी परम्परा को आगे बढ़ाते हुए हमारे फौलादी प्रधानमन्त्री बलूचिस्तान के लोगों की पीड़ा का मुद्दा विश्व स्तर पर उठा...