About Us / Contact Us

 

Click Here To View ‘About Us / Contact Us’ in English

(जानिये संक्षेप में, पूरे विश्व को तीव्रतम गति से जागृत व चैतन्य कर पूर्ण सुखी समाज की पुनर्स्थापना करने वाले “स्वयं बनें गोपाल” समूह के प्रचंड क्रांतिकारी उद्देश्यों, युद्ध स्तरीय कार्यशैली, और इसके अनवरत कार्यरत कुछ मुख्य “स्वयं सेवकों के बारे में)-

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantra

आदरणीय पाठक,
बड़ी प्रसन्नता हुई आपके योग, आध्यात्म जैसे दुर्लभ भारतीय ज्ञानों के प्रति रुझान को देखकर !

निश्चित रूप से आज पूरा विश्व इस सच्चाई को अच्छे से समझ चुका है कि विश्व में पूर्ण रूप से सुख, शांति का साम्राज्य तब तक पुनः स्थापित नहीं हो पायेगा जब तक कि पूरे विश्व का हर एक मानव योग की मुख्य धारा से जुड़ नहीं जाता है !

अतः सर्वत्र निराशा व अवसाद से भरे ऐसे कठिन माहौल में, आपका योग आध्यात्म की महान विद्याओं के प्रति प्रेम, आपके हृदय के किसी ना किसी कोने में निश्चित रहने वाली आपकी इस प्रबल इच्छा कि “विश्व में स्वर्णिम युग का पुनरागमन अतिशीघ्र हो सके” को भी प्रदर्शित करता है, जिसके लिए “स्वयं बनें गोपाल” समूह हृदय से आपको धन्यवाद व शुभकामना देता है !

हम “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़े सतत क्रियाशील स्वयंसेवी हैं !

“स्वयं बनें गोपाल” भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त एक स्वयं सेवी संस्था (N.G.O.) है जिसका मुख्य कार्यालय “उत्तर प्रदेश” की राजधानी “लखनऊ” में स्थित है (लखनऊ स्थित कार्यालय का पूर्ण पता जानने के लिए कृपया नीचे देखें) !

वास्तव में “स्वयं बनें गोपाल” संस्था एक सामूहिक प्रयास है, मानवता पूर्ण व नैतिक विचारों के अधिक से अधिक प्रचार प्रसार के लिए, जिससे पूरी मानव जाति का चहुँमुखी विकास सुनिश्चित हो सके !

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantraजैसे “श्री गोपाल” का पूरा जीवन दूसरों के दुःख हरने में बीता उसी तरह, उन्ही परम आदरणीय श्री गोपाल के सर्व हित व सर्व सेवा के आदर्शों को अपना परम लक्ष्य मानते हुए, हम तुच्छ साधारण संसारी कार्यकर्ताओं का भी यही पूर्ण प्रयास रहता है कि कैसे हम अपनी छोटी सी जिन्दगी में इस निराशा, असंख्य बिमारियों, और दुर्वासनाओं से पीड़ित समाज को शांत, सौम्य और सुखी बनाने में अधिक से अधिक सहायक हो सकें !

अतः “स्वयं बनें गोपाल” ऐसे ही उत्साही और मेहनती लोगो का समूह है जो अपने स्टेटस और क्वालिफिकेशन को तब तक हाई नहीं, व्यर्थ मानते है जब तक उनकी पढ़ाई, उनका बिज़नेस किसी भूखे के पेट में खाना ना डाल सके या किसी बीमारी से तड़पते का इलाज ना करा सके या निरीह जीवो की सेवा ना कर सके !

ऐसे काम करने से तुरंत अपने मन में सुख मिलता है इसलिए हर अच्छा आदमी अपनी जिंदगी में ऐसे अच्छे काम जरूर करना चाहता है पर वास्तविकता में रोजमर्रा के कामो में ही उलझ कर आदमी की जिंदगी का एक एक दिन बहुत तेजी से बीतता चला जाता है और अन्त समय अपनी मृत्यु शय्या पर सोच – सोच कर दुखी होता है कि उसने एक मानव शरीर पाकर भी सिर्फ जानवरो की तरह अपना पूरा जीवन अपने और अपने परिवार के खाना, पीना, बच्चे पैदा करना और घर सजाने में ही बिता दिया !

पर उस समय दुखी होने से कोई लाभ नहीं होता क्योकि जीवन के दीपक में तेल ख़त्म हो चुका होता है !

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantraनिष्कर्षतः “स्वयं बनें गोपाल” उन्ही दूरदर्शी लोगो का समूह है जो अपनी मृत्यु शय्या पर विलाप नहीं हर्षित होना चाहते है कि, हाँ, हमने अपना जीवन सिर्फ अपने लिए ही नहीं, बल्कि दूसरो के लिए भी जीया है !

आज के समय में निरीह, गरीब, परेशान बहुत हैं लेकिन उनकी मदद करने वाले बहुत ही थोड़े से ! अतः सर्वत्र फैली हुई ऐसी हृदय विदारक स्थिति में “स्वयं बनें गोपाल” समूह पूरे आदर के साथ अनुरोध और आवाहन करता है, विश्व के सभी नागरिकों से कि, वे अपने अंदर के “गोपाल” को जगायें और, “स्वयं बनें गोपाल” !

“गोपाल” वो होता जिसका अपनी “गो” अर्थात “इन्द्रियों” (अर्थात गलत सांसारिक सुख, भोग, वासना की इच्छाओं) पर नियन्त्रण होता है और ऐसा ही आत्म संयमी मानव, बिना अपने किसी निजी स्वार्थ के, सिर्फ दूसरों की भलाई के लिए आखिरी हद तक जा सकता है !

“गोपाल” वो भी होता जो “गो” (अर्थात भारतीय देशी गाय माता) को साक्षात देवी का रूप मानकर, बड़े आदर से उनका पालन पोषण करता है क्योकि सारे वेद पुराण में गाय माता का दर्जा भगवान के ही समकक्ष ही बताया गया है !

indian cow urine krishna gomata radha braj vrindavan gomutra गोमूत्र भारतीय देशी गाय माता की नस्लइसलिए गाय माता को पूरे विश्व की माता (अर्थात “जगत माता”) बताते हुए कहा गया है कि अकेले गोबर व गोमूत्र (Indian Desi breeds cow Gomutra or urine and Dung) के प्रयोग से ही खेती की पैदावार इतनी ज्यादा निश्चित बढ़ाई जा सकती है कि पूरे विश्व में कभी भी, किसी भी प्राणी को भूख की असहनीय अग्नि में जलने की नौबत ही ना आने पाए और साथ ही साथ शुद्ध देशी नस्ल की गाय माता का दूध व मूत्र (Cow milk & Gomutr) हर बिमारी (जैसे- एड्स, किसी भी अंग का कैंसर, ट्यूबरक्लोसिस, दमा, नपुंसकता, शीघ्रपतन, सफ़ेद दाग, कोढ, लकवा, पागलपन डिप्रेशन स्ट्रेस जैसे सभी मानसिक रोग, अत्यधिक बढ़ी हुई डायबिटीज, मोटापा, हाई या लो ब्लड प्रेशर, हार्ट ब्लोकेज, हृदय की अनियमित धड़कन, किडनी की खराबी, गंजापन, असमय सफदे बाल, नेत्र रोशनी में कमी, ग्लूकोमा, पीलिया, त्वचा की झुर्रियाँ व ग्लो की कमी, त्वचा का ढीलापन, शरीर में ताकत की कमी, सुस्ती, जोश उत्साह की कमी, गठिया, स्याटिका, सरवाईकल स्पोन्डिलाइटिस, अल्सर, बहुमूत्र, पथरी, बवासीर, भगन्दर, गिल्टी, कमजोर पाचन शक्ति, कमजोर मसूढ़े व दांत, पुरानी कब्ज, दस्त, गैस, एसिडिटी, पुराना नजला जुकाम, पुरानी खांसी, किसी भी क़िस्म की एलर्जी, पेट दर्द, फाइलेरिया, खुजली, हड्डी की कमजोरी आदि) में बहुत ही फायदा है !

इन्ही कारणों की वजह से दुनिया के सबसे बड़े वैज्ञानिकों अर्थात भारतीय ऋषि मुनियों ने परम आदरणीय हिन्दू धर्म के आयुर्वेदिक ग्रन्थों में, स्वयं भगवान् शिव से प्राप्त ज्ञान अनुसार यह वर्णित किया है कि संसार के सभी प्राणियों की कृपा से जो जो भी औषधियां प्राप्त होती हैं, उन सब में गोमूत्र (जो शुद्ध भारतीय नस्ल की गाय माता का हो) सबसे ज्यादा फायदेमंद है !

अतः कोई भी सज्जन स्त्री/पुरुष यदि “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने गाँव/शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) में भारतीय देशी गाय माता से सम्बन्धित कोई व्यवसायिक/रोजगार उपक्रम (जैसे- अमृत स्वरुप सर्वोत्तम औषधि माने जाने वाले, सिर्फ भारतीय देशी गाय माता के दूध व गोमूत्र का विक्रय केंद्र, गोबर गैस प्लांट, गोबर खाद आदि) {या मात्र सेवा केंद्र (जैसे- बूढी बीमार उपेक्षित गाय माता के भोजन, आवास व इलाज हेतु प्रबन्धन)} खोलने में सहायता लेकर साक्षात कृष्ण माता अर्थात गाय माता का अपरम्पार बेशकीमती आशीर्वाद प्राप्त करने के साथ साथ अच्छी आमदनी भी कमाना चाहतें हों, तो वे कृपया नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत निःसंकोच सम्पर्क करें ! देशी गाय माता से हो सकने वाली आमदनी के बारे में संक्षिप्त जानकारी पाने के लिए कृपया इस लेख के लिंक पर क्लिक करें- 6000 से 10,000 रूपए हर महीने गोमूत्र से कमाई करवा सकती हैं सिर्फ 1 गाय माता !

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantraअतः “स्वयं बनें गोपाल” अति विनम्रता के साथ बारम्बार, सबसे यही निवेदन करता है कि एक सच्चे “गोपाल” (अर्थात एक इन्द्रिय संयमी मानव) के आदर्शो को अपने जीवन में सतत उतारने का प्रयास करें और नित्य “श्री गोपाल” (अर्थात भगवान कृष्ण) के चरणो में यह हृदय से निवेदन भी करें कि हम सभी की बुद्धि एक सेकेण्ड के लिए भी भ्रष्ट ना होने पाए, जिससे जो पूरे विश्व में जहां कहीं भी है, वो वहीँ पर रहकर अधिक से अधिक परपीड़ा शमनार्थ निरन्तर प्रयास करता रहे और साथ ही साथ पूरे मानव जगत से भुखमरी व बिमारी के स्थायी निदान के लिए अति आवश्यक “जगत माता” स्वरुप गाय माता की भुला दी गयी दिव्य महिमा के पुनरुत्थान में सहायक भी हो सके !

“स्वयं बनें गोपाल” संस्था के बारे में और विस्तार से जानने के लिए कृपया इस वेबसाइट के आर्टिकल्स को पढ़ें ! वैसे गूगल एनलिटिक्स के आंकड़ों के अनुसार वर्तमान में (अर्थात दिनांक 31 अक्टूबर 2017 तक) “स्वयं बनें गोपाल” समूह की इस वेबसाइट के पाठकों की संख्या विश्व के 195 देशों में से 169 देशों तक में फ़ैल चुकी है, जबकि पिछले साल तक यह 161 देशों तक में थी और अगर शहरों की बात करें तो यह पिछले साल के 3785 शहरों के आंकड़े से बढ़कर 4311 तक पहुँच गयी है !

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantraइन शहरों में विश्व के सभी बड़े शहरों (जैसे – वाशिंगटन, अबू धाबी, मास्को, सैन फ्रांसिस्को, मियामी, दुबई, लॉस एंजिलिस, बैंकाक, इस्तांबुल, न्यूयॉर्क, जेद्दाह, सिडनी, दोहा, औस्टिन, जोहान्सबर्ग, लन्दन, शिकागो, मस्कट, बीजिंग, ह्यूस्टन, नैरोबी, बोस्टन, शारजाह, अटलांटा, सिंगापुर, डरहम, फिलाडेल्फिया, टोरंटो, ब्रिस्बेन, हॉन्ग कॉन्ग, पर्थ, बर्लिन, ऑक्लैण्ड, रोम, पेरिस, डबलिन, शंघाई, मिलान, सिओल, कंसास सिटी, सेंट पीटर्सबर्ग, कैम्ब्रिज, बेवर्ली हिल्स, कोलंबिया, म्यूनिख, मक्का, होनोलुलू, नई दिल्ली, वेनकुअर, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, लखनऊ आदि आदि) से लेकर छोटे शहरों (जैसे- भागलपुर, समस्तीपुर, रतलाम, कोल्हापुर, बलिया, लुधियाना आदि आदि) तक “स्वयं बनें गोपाल” समूह के पाठक गण मौजूद हैं !

इस वेबसाइट पर विभिन्न सर्च इंजन्स (जैसे गूगल, बिंग आदि) से हर महीने पहुचने वाले, लाखों नए पाठकों के अतिरिक्त फेसबुक सोशल मीडिया से जुड़ने वाले आदरणीय मित्रों की संख्या भी 2 लाख से अधिक हो चुकी है (नोट- अगर आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह की वेबसाइट के नियमित पाठक हैं लेकिन इसके फेसबुक पेज से नहीं जुड़े हैं, तो कृपया अभी जुड़ें) !

अतः यदि आपका मन भी निसहाय, लाचार और निराश्रित लोगों को देख व्यथित व बेचैन हो उठता है तो कृपया आप हमारे इस प्रयास से अवश्य जुड़े !

charity participation movement kranti andolan join sbgअर्थात अगर आप भी इस वैश्विक परिवर्तन के महा आन्दोलन में, अपना प्रचंड योगदान देने का बेशकीमती जज्बा रखते हो तो निःसंकोच अभी तुरंत जुड़िये “स्वयं बनें गोपाल” समूह से और वो भी पूरी तरह से अपनी सुविधानुसार (अर्थात अपने मनपसन्द तरीके व समयानुसार) !

मनपसन्द तरीके से तात्पर्य है कि आपकी चाहे जिस भी क्षेत्र में रूचि हो (जैसे- कला, विज्ञान, साहित्य, शिक्षा, चिकित्सा, रंगमंच, संगीत, अभिनय, सुरक्षा, कृषि, रिसर्च (शोध), लेखन, भक्ति, योग, सेवाधर्म या किसी भी अन्य तरह के क्षेत्र में रूचि हो, या श्रमदान करने की इच्छा हो), उसी क्षेत्र से सम्बन्धित कोई भी छोटा से लेकर बड़ा उचित प्रेरणास्पद कार्य करें तो “स्वयं बनें गोपाल” समूह आपके उस कार्य को पूरे विश्व के सामने उजागर कर, अन्य सभी के मन में भी ऐसा प्रेरणायुक्त कार्य करने की इच्छा को जगाकर, विश्व परिवर्तन की इस महा क्रांति का जमीनी स्तर से लेकर सर्वोच्च स्तर तक संक्रामक रूप से प्रसार करेगा !

अगर आपको स्वयं समझ में ना आ रहा हो कि आप कब, कैसे और क्या – क्या कर सकतें हैं तब भी आप तुरंत “स्वयं बनें गोपाल” समूह से निःसंकोच सम्पर्क कर सकतें हैं क्योंकि इसके विशेषज्ञों की सलाह से आप निश्चित रूप से अपने में छिपी हुई अपार संभावनाओं व गुणों को पहचान करके इस विश्व के लिए महान परोपकारी साबित हो सकतें हैं (अर्थात स्वयं गोपाल बनकर श्री कृष्ण राज रुपी स्वर्णिम युग की पुनर्स्थापना में अत्यंत सहायक हो सकते हैं) !

इसके अतिरिक्त यदि आप एक संस्था, विशेषज्ञ या व्यक्ति विशेष के तौर पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह से औपचारिक, अनौपचारिक या अन्य किसी भी तरह से जुड़कर या “स्वयं बनें गोपाल” समूह से किसी भी तरह का उचित सहयोग, सहायता, सेवा लेकर या देकर, इस समाज की भलाई के लिए किसी भी तरह का ईमानदारी पूर्वक प्रयास करना चाहतें हों, तो भी हमसे जुड़ें !

हमसे जुड़ने के लिए, कृपया इस लेख के अंत में दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से सम्पर्क करें !

आईये हम आपको संक्षिप्त परिचय देते हैं “स्वयं बनें गोपाल” संस्था द्वारा युद्ध स्तर पर किये जाने वाले विभिन्न जनहित प्रयासों के बारे में-

“स्वयं बनें गोपाल” समूह पूरे विश्व के सम्पूर्ण विकास व चरम आनन्द की प्रथम नीव अर्थात मानवीय मूल्यों (जिनका आज बहुत ही तेजी से पतन होता जा रहा है) का अखंड साम्राज्य फिर से स्थापित करने के लिए, विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों का घरेलु स्तर (जैसे- मोहल्ला, क़स्बा, गाँव, छोटे शहर आदि) से लेकर विश्व स्तर पर आयोजन करने का प्रयास करता है ! उनमे से कुछ प्रयासों का संक्षिप्त वर्णन निम्नवत है-

जैसे मानसिक दुर्बुद्धि व शारीरिक रोगों के सम्पूर्ण नाश के लिए, विभिन्न योग, आध्यात्म {जैसे- हठयोग-अष्टांग योग, राजयोग, भक्तियोग, कर्मयोग, कुण्डलिनी शक्ति व चक्र जागरण, मुद्रा, ध्यान, प्राण उर्जा चिकित्सा (रेकी या डिवाईन हीलिंग), आसन, प्राणायाम, एक्यूप्रेशर, नेचुरोपैथी} एवं अन्य जीवनोपयोगी व जिज्ञासावर्धक बहुमूल्य ज्ञान के अधिक से अधिक प्रचार प्रसार के लिए विभिन्न अल्प कालीन व दीर्घ कालीन शैक्षणिक कोर्सेस, ट्रेनिंग सेशन्स (शिविर), सेमीनार्स, वर्क शॉप्स, प्रोग्राम्स (कार्यक्रमों), कांफेरेंसेस (सम्मेलन, सभा, वार्तालाप) आदि को हिंदी व इंग्लिश भाषा में (जिस भाषा में जिज्ञासुओं की सुविधा हो) आयोजित करना !

[Yoga, Spirituality {i.e.- Hatha Yoga or Ashtanga Yoga, Raja Yoga, Bhakti Yoga, Karma Yoga, Kundalini yoga and Chakras Kundalini Shakti, Mudra Yoga, Meditation or Dhyana, Prana Energy Treatment or Pranic Healing (Reiki or Divine Healing), Asanas (Yogasana), Pranayama, Acupressure, Naturopathy}]

उपर्युक्त योग सम्बन्धित किसी भी तरह के शैक्षणिक कोर्स को ज्वाइन करने के लिए या अन्य किसी भी कार्यक्रम से, किसी भी तरह से जुड़ने की विस्तृत जानकारी जानने के लिए, नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत सम्पर्क किया जा सकता है ! स्वयं बनें गोपाल” संस्था द्वारा संचालित योग आध्यात्म के इन विभिन्न कोर्सेस का पाठ्यक्रम सिलेबस व अन्य एकदम नई अनोखी सुविधाओं को जानने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- जानिये “स्वयं बनें गोपाल” द्वारा संचालित योग आध्यात्म के कोर्स का सिलेबस (YOGA & SPIRITUALITY COURSE SYLLABUS) !

तथा जो सज्जन स्त्री/पुरुष “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़कर अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) में एक विश्वस्तरीय योग/आध्यात्म सेंटर खोलकर सुख, शान्ति व निरोगता का प्रचार प्रसार करना चाहतें हों, वे भी नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत सम्पर्क कर सकतें हैं !

ngo svyam bane gopal process Indian Hindi Hindu spirituality religion religious templeइन यौगिक आध्यत्मिक क्रियाओं के अतिरिक्त “स्वयं बनें गोपाल” समूह नित्य प्रशिक्षण देता है एक ऐसी महान दुर्लभ दैवीय प्रक्रिया का, जो हमें परम आदरणीय व दिव्य दृष्टिधारी ऋषि सत्ता के दिव्य कृपा प्रसाद स्वरुप प्राप्त हुई है और जिसका निरंतर अभ्यास करने पर, कोई भी आम इंसान (चाहे वह कितना भी बड़ा पापी हो या पुण्यात्मा, गरीब हो या अमीर, स्त्री हो या पुरुष, बालक हो या वृद्ध) निश्चित रूप से दिन ब दिन बढ़ती हुई अपने अंदर ईश्वरत्व की अनुभूति को महसूस करते हुए स्वयं, गोपाल अर्थात ईश्वर बनने की प्रक्रिया की ओर बढ़ने लगता है !

जिसके फलस्वरूप धीरे धीरे उसके शरीर की सभी बीमारियों का नाश होकर, वह चिर युवावस्था की ओर बढ़ता है और तदनन्तर उचित समय आने पर ईश्वर के दर्शन पाने का महा सौभाग्य भी उसे अवश्य प्राप्त होता है, जिसके बाद की उसके जीवन की बागडोर स्वयं गोपाल अर्थात ईश्वर संभाल लेतें हैं ! इस दैवीय प्रक्रिया से ना केवल शरीर की सभी बिमारियों का नाश होता है बल्कि सभी उचित सांसारिक मनोकामनाएं भी सही समय आने पर निश्चित पूरी होती हैं ! अतः यह दैवीय प्रक्रिया निश्चित रूप से हर आम इंसान के लिए अमृत स्वरुप है और इसे रोज करने में मात्र एक घंटा ही समय लगता है ! इस महान दैवीय प्रक्रिया का नाम है “स्वयं बनें गोपाल” योग (Svyam Bane Gopal Yoga) !

“स्वयं बनें गोपाल” प्रक्रिया का “स्वयं बनें गोपाल” समूह के लखनऊ स्थित कार्यालय में रोज प्रशिक्षण दिया जाता है और भविष्य में भारत समेत विश्व के अन्य हिस्सों में खोले जाने वाले “स्वयं बनें गोपाल” समूह के सेंटर्स पर भी इसकी ट्रेनिंग दी जायेगी (“स्वयं बनें गोपाल” प्रक्रिया के बारे में विस्तार से पढ़ने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- जानिये, स्वयं को गोपाल बनाने वाली महा दैवीय प्रकिया के बारे में ) !

शुरू में कुछ दिनों तक इस दैवीय प्रक्रिया को करने में दिक्कत, उबन आदि महसूस हो सकती है लेकिन निराश ना हों क्योंकि मात्र 7 दिनों के अंदर ही निश्चित ही आपको आपके शरीर में आश्चर्यजनक सुधार दिखने लगेंगे ! वो सुधार कैसा होगा यह तो आपको मात्र 7 दिनों में ही पता लग जाएगा पर उस सुधार के साथ ही साथ आपको दिन रात अक्सर काफी लम्बे समय तक अनायास एक आंतरिक प्रसन्नता, ताजगी, उत्साह, स्फूर्ति आदि भी लगातार महसूस होती रहेगी ! इसमें जो सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस सुधार का कोई अंत नहीं है, मतलब धीरे धीरे आपको रोज पहले से ज्यादा आपके शरीर में कुछ नया सुधार होता मिलेगा !

और यही प्रक्रिया एक दिन आपको साक्षात् भगवान् गोपाल अर्थात कृष्ण के दर्शन का महा सुख भी दिलवाकर ही छोड़ेगी, जिसके बाद से आपके जीवन की हर छोटी से छोटी घटना, स्वयं अनंत ब्रह्मांडों के निर्माता श्री कृष्ण ही तय करेंगे ! इसलिए एक बार मात्र 7 दिनों के लिए ही सही, लेकिन सभी को अपने जीवन में इसका अभ्यास करके जरूर देखना चाहिए, क्योंकि इस प्रक्रिया से उन्हें निश्चित ऐसा लाभ मिलेगा जो रोज बढ़ता ही जाएगा !

parimal parashar founder president of ngo svyam bane gopal process Indian Hindi Hindu spirituality religion religious temple God yoga pranayama asana mudra ayurveda treatment cure meditationइस दुनिया का हर एक मानव अपने वास्तविक रूप अर्थात श्री गोपाल का रूप प्राप्त कर पाने में सफल हो पाए, इसी एक मात्र इच्छा व उद्देश्य के साथ और परम आदरणीय संत कृपा की क्षत्रछाया में, कई वर्षों पूर्व स्थापना हुई थी आपके अपने इस “स्वयं बनें गोपाल” समूह की ! जब हर एक इंसान, सीधे स्वयं ईश्वर बनने के महासुख को प्राप्त कर पाने की क्षमता रखता है, तो फिर क्यों कोई इंसान समझौता करे, ईश्वर से कम बनने की ? ईश्वर से कम बनने की कोशिश करना मतलब ईश्वर के द्वारा हम मानवों को उपहार में दी गयी अथाह मानसिक क्षमता का जानबूझकर कम इस्तेमाल करना, जो की निश्चित रूप से गलत है ! इसलिए आज से ही, “स्वयं बनें गोपाल” और दूसरों को भी बनाएं गोपाल !

अतः इस महान दैवीय प्रकिया को खुद भी करिए और अधिक से अधिक दूसरे दुखी, परेशान, बीमार, कमजोर लोगों को भी बताइए क्योंकि यदि आपके प्रयास से अगर किसी एक आदमी ने भी इस प्रक्रिया को नियम से करके सफलता पा ली तो उसका महा पुण्य आपको जरूर मिलेगा, जो आपके इस जीवन में अपार खुशियों के साथ साथ परलोक में भी आपको अक्षय सुख प्रदान करेगा !

real alien foot print ufo crop circle india nasa pyramid truth evidence“स्वयं बनें गोपाल समूह ने पूरे विश्व में पहली बार एक ऐसा बेहद विशेष और अनोखा संगठित कदम उठाया है कि अब लुप्त हो चुके अति दुर्लभ विज्ञान के प्रारूप {जैसे- प्राचीन गुप्त हिन्दू विमानों के वैज्ञानिक सिद्धांत, ब्रह्मांड के निर्माण व संचालन के अब तक अनसुलझे जटिल रहस्यों का सत्य (जैसे- ब्लैक होल, वाइट होल, डार्क मैटर, बरमूडा ट्रायंगल, इंटर डायमेंशनल मूवमेंट, आदि जैसे हजारो रहस्य), दूसरे ब्रह्मांडों के कल्पना से भी परे आश्चर्यजनक तथ्य, परम रहस्यम एलियंस व यू.ऍफ़.ओ. की दुनिया सच्चाई (जिन्हें जानबूझकर पिछले कई सालों से विश्व की बड़ी विज्ञान संस्थाएं आम जनता से छुपाती आ रही हैं) तथा अन्य ऐसे सैकड़ों सत्य (जैसे- पिरामिड्स की सच्चाई, समय में यात्रा, आदि) के विभिन्न अति रोचक, एकदम अनछुए व बेहद रहस्यमय पहलुओं से सम्बन्धित नॉलेज ट्रान्सफर सेमीनार (सभा, सम्मेलन, वार्तालाप, शिविर आदि), कार्यक्रमों आदि का आयोजन करना शुरू किया है, जिसकी वजह से हमें पूरे विश्व के इंटेलेक्चुअल्स से काफी उत्साहजनक व प्रशंसात्मक रुझान मिल रहा है !

अतः जो सज्जन स्त्री/पुरुष “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़कर अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, इन लुप्त हो चुके अति दुर्लभ विज्ञान के प्रारूप से सम्बन्धित नॉलेज ट्रान्सफर सेमीनार (सभा, सम्मेलन, वार्तालाप, शिविर आदि), कार्यक्रमों आदि का आयोजन करवाकर, इन दुर्लभ विज्ञान से अनभिज्ञ समाज को परिचित करवाना चाहते हों, वे भी नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत सम्पर्क कर सकतें हैं !

इसके अतिरिक्त “स्वयं बनें गोपाल” समूह, समाज की सभी पीड़ा व दुखों का एक प्रमुख कारण, अर्थात “ईश्वरत्व का अभाव” की पूर्णता के लिए हर वो संभव प्रयास {जैसे- अति पवित्र व मोक्षदायिनी धार्मिक गाथाओं, प्राचीन हिन्दू धर्म के वेद पुराणों व अन्य ग्रन्थों में वर्णित जीवन की सभी समस्याओं (जैसे- कष्टसाध्य बीमारियों से मुक्त होकर चिर यौवन अवस्था प्राप्त करने का तरीका) के समाधान करने के लिए परम आश्चर्यजनक रूप से लाभकारी व उपयोगी साधनाएं व ज्ञान आदि से सम्बन्धित नॉलेज ट्रान्सफर सेमीनार (सभा, सम्मेलन, वार्तालाप, शिविर आदि), कार्यक्रमों आदि का आयोजन करना} कर रहा है, जिससे ना जाने कितने ही दुखी स्त्री/पुरुषों के आशा विहीन जीवन में, सुख की किरणें फिर से जगमगाना शुरू हो रही हैं !

अतः जो सज्जन स्त्री/पुरुष “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़कर अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, ऊपर लिखी हुई जीवन की सभी समस्याओं का समाधान करने वाली परम आश्चर्यजनक लाभकारी व उपयोगी साधनाओं व ज्ञान आदि से सम्बन्धित नॉलेज ट्रान्सफर सेमीनार (सभा, सम्मेलन, वार्तालाप, शिविर आदि) का आयोजन करवाकर, पूरी तरह से निराश लोगों में फिर से नयी आशा की किरण जगाना चाहते हों, वे भी नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत सम्पर्क कर सकतें हैं !

दया सेवा परोपकार charity serve welfare society help poor people beggererतथा एक आदर्श समाज की सेवा योग की असली परिचायक भावना अर्थात “वसुधैव कुटुम्बकम” की अलख ना बुझने पाए इसलिए “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा विभिन्न सौहार्द पूर्ण, देशभक्ति पूर्ण, समाज के चहुमुखी विकास व जागरूकता पूर्ण, पर्यावरण सरंक्षण, शिक्षाप्रद, महिला सशक्तिकरण, अनाथ गरीब व दिव्यांगो के भोजन वस्त्र शिक्षा रोजगार आदि जैसी मूलभूत सुविधाओं के प्रबंधन, मोटिवेशनल (उत्साहवर्धक व प्रेरणास्पद) एवं परोपकार पर आधारित कार्यक्रमों (चैरिटी इवेंट्स, चैरिटी शो व फाईलेन्थ्रोपी इवेंट्स) का भी आयोजन करना !

अतः जो सज्जन स्त्री/पुरुष “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़कर अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, ऊपर लिखे हुए समाज सुधार व परोपकार आधारित कार्यक्रमों का आयोजन करवाकर ऐसे वास्तविक परम पुण्य प्रदाता महायज्ञ में अपनी आहुति देना चाहतें हों, वे भी नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत सम्पर्क कर सकतें हैं !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह ऊपर लिखे हुए सभी कार्यक्रमों को अपने लखनऊ स्थित कार्यालय के साथ साथ, उन सभी तरह की सरकारी व अर्धसरकारी संस्थाओं/कार्यालयों/विभागों आदि के अतिरिक्त गैरसरकारी अर्थात प्राइवेट संस्थाओं/कार्यालयों/विभागों के कैंपस में भी आयोजित करता है, जो हमें इसके लिए निमन्त्रण देते हैं !

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantra“स्वयं बनें गोपाल” समूह के लखनऊ स्थित कार्यालय में और अन्य स्थानों पर आयोजित होने वाले उपर्युक्त किसी भी कार्यक्रम से कभी भी, कोई भी जिज्ञासु तुरंत जुड़ सकता है या एडमिशन (प्रवेश) प्राप्त कर सकता है

ऊपर लिखे हुए किसी भी कार्यक्रम से, किसी भी तरह से जुड़ने से सम्बन्धित, प्रश्न को निःसंकोच नीचे दिए गए माध्यमों (ईमेल व फोन नम्बर) से तुरंत सम्पर्क करके पूछा जा सकता है !

उपर्युक्त कार्यक्रमों के अतिरिक्त यदि आप योग, आध्यात्म, वैदिक ज्ञान से सम्बंधित अपने किसी भी तरह के अन्य निजी प्रश्नों को भी “स्वयं बनें गोपाल” समूह से पूछना चाहतें हों तो आप नीचे दिए गए माध्यमों से हमसे, बिना किसी झिझक के निःसंकोच तुरंत सम्पर्क कर सकतें हैं !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह के विश्व के 169 देशों में स्थित सभी आदरणीय पाठकों से हमारा अति विनम्रतापूर्वक निवेदन है कि आपके द्वारा पूछे गए योग, आध्यात्म से सम्बन्धित किसी भी लिखित प्रश्न (ईमेल) का उत्तर प्रदान करने के लिए, कृपया हमे कम से कम 6 घंटे से लेकर अधिकतम 72 घंटे (3 दिन) तक का समय प्रदान किया करें क्योंकि कई बार एक साथ इतने ज्यादा प्रश्न हमारे सामने उपस्थित हो जातें हैं कि सभी प्रश्नों का उत्तर तुरंत दे पाना संभव नहीं हो पाता है !

वास्तव में “स्वयं बनें गोपाल” समूह अपने से पूछे जाने वाले हर छोटे से छोटे प्रश्न को भी बेहद गंभीरता से लेता है इसलिए हर प्रश्न का सर्वोत्तम उत्तर प्रदान करने के लिए, हम सर्वोत्तम किस्म के विशेषज्ञों की सलाह लेतें हैं, इसलिए हमें आपको उत्तर देने में कभी कभी थोड़ा विलम्ब हो सकता है, जिसके लिए हमें हार्दिक खेद है !

साथ ही साथ “स्वयं बनें गोपाल” समूह बड़ी विनम्रता से सभी आदरणीय पाठकों से निवेदन करते हुए यह भी कहना चाहता है कि, हमें निश्चित रूप से बहुत ही ख़ुशी होती है जब जब हम आपके किसी भी तरह से सहायक होने का सौभाग्य प्राप्त करतें हैं, किन्तु हमें तब दुःख व उलझन भी होती है जब कुछ पाठक इस सुविधा का अनुचित प्रयोग करते हुए हमसे उटपटांग व असंगत प्रश्न पूछ कर हमसे जुड़े विशेषज्ञों के कीमती समय को नष्ट करतें हैं, जिससे अन्य जिज्ञासुओं को उत्तर पाने में अनावश्यक विलम्ब होता है !

अतः “स्वयं बनें गोपाल” समूह ने यह नीति निर्धारित कर रखी है कि, वह कभी भी, किसी भी अनुचित या असंगत प्रश्न का उत्तर नहीं देगा !

वास्तव में “स्वयं बनें गोपाल” संस्था में समाज के चहुमुखी विकास के लिए आवश्यक सभी विषयों के मूर्धन्य विशेषज्ञों के साथ साथ कई ऐसे बेहद प्रतिभावान योग एक्सपर्ट्स भी है जिनके पास योग की उत्तम शैक्षणिक योग्यता के अलावा हजारों ऐसे दुर्लभ योग आध्यात्म के ग्रन्थों का ज्ञान भी है जिन्हें अब खोज पाना मुश्किल है !

साथ ही इन योग एक्सपर्ट्स ने भारत के कई दिव्य दृष्टि प्राप्त साधू योगियों से भी ऐसा कष्ट साध्य योग का ज्ञान प्राप्त कर रखा है जिनको अपने जीवन में उतारने से निश्चित रूप से चमत्कारी लाभ मिलता है !

और यह निश्चित रूप से इन योग एक्सपर्ट्स के बेहद कष्ट साध्य प्राप्त ज्ञान का ही नतीजा है कि आज “स्वयं बनें गोपाल” समूह की सहायता से बहुत से विद्यार्थी एक विद्वान् योग प्रशिक्षक के तौर पर विकसित हो रहें हैं और साथ ही साथ पूरे विश्व में ना जाने कितने ही मरीज अपनी अपनी हर तरह की तकलीफ दायक बीमारियों (जैसे- कैंसर, एड्स, डायबिटिज, हृदय रोगों, किडनी रोगों, लीवर रोगों, गठिया, मानसिक अशांति आदि) में अत्यंत लाभ प्राप्त कर रहें हैं !

treatment in hindi diagnosis ayurveda herbal yoga pranayama asana jadi buti naturopathy medicines causes symptoms hiv 1 2 spread cure prevention yogasana veda mantra tantra yantraआज के समय में, जहाँ एक तरफ अक्सर यह देखने को मिलता है कि बहुत से नामी गिरामी योग शिक्षक, योग के नाम पर अपने मन से बनाई हुई उटपटांग एक्सरसाइजेज को “यूनीक योगा” या “पॉवर योगा” आदि के रूप में प्रचारित कर अपने फालोवर्स को ठगते हैं (क्योंकि इन एक्सरसाइजेज को करने से बहुत ही मामूली लाभ मिलतें हैं जबकि वास्तविक योग के लाभ अनंत होतें हैं), वहीँ “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़े मूर्धन्य योग विशेषज्ञ सिर्फ महान ऋषि पतंजली द्वारा भगवान् शिव के आशीर्वाद से आविष्कार किये हुए विभिन्न योग, आसनों, प्राणायामों, मुद्राओं, बन्ध, क्रियाओं, ध्यान विधियों, कुण्डलिनी शक्ति जागरण विधियों, मर्दन विद्या (आधुनिक नाम एक्यूप्रेशर), प्राकृतिक चिकित्सा विधियों (आधुनिक नाम नेचुरोपैथी) के बारे में ही बत्ताते हैं !

“स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़े योग विशेषज्ञ किसी भी योग की प्रक्रिया को प्रैक्टिकल डेमों के साथ इतनी ज्यादा आसानी से समझातें हैं कि किसी भी आयु का व्यक्ति (चाहे वह बच्चा हो या वृद्ध, स्त्री हो या पुरुष) पहली ही बार में आसानी से समझने लगता है ! इसके अलावा “स्वयं बनें गोपाल” समूह के विशेषज्ञ योग सम्बन्धी सभी सावधानियों, पूर्व तैयारियों, श्वासों के नियमन आदि से सम्बन्धित सभी बारीक़ जानकारियों को भी विस्तार से समझातें हैं !

अतः आईये योग की मुख्य धारा से खुद को और अधिक से अधिक दूसरों को भी जोड़कर, इतना शारीरिक व मानसिक रूप से सामर्थ्यवान बना सकें कि निसहायों के आसूं पोछने के प्रयास में सभी एक जुट होकर प्रसन्नतापूर्वक सदा तत्पर रहें !

अंततः “स्वयं बनें गोपाल” समूह पूरे विश्व से सादर प्रार्थना करता है योग के साथ साथ पूरी तरह से शाकाहार अपनाने की, क्योंकि शाकाहार ही सदाचार की वो प्रथम सीढ़ी है जिससे हृदय में एक स्थायी प्रसन्नता का अवतरण संभव हो पाता है और यही स्थायी प्रसन्नता ही सभी तरह की उदिग्नता को शांत कर सभी अपराधिक मानसिक प्रवृत्तियों का नाश कर सकती है ताकि एक सौ प्रतिशत अपराध मुक्त समाज का निर्माण संभव हो सके !

जिसका एक बड़ा उदाहरण यह भी है कि चाहे कितना भी बड़ा अपराधी क्यों ना हो, अगर उसे नियमित रूप से लम्बे समय तक सात्विक खाना (जैसे- दाल, चावल, रोटी, सब्जी, देशी घी आदि) खिलाया जाए और नियमित योग भी कराया जाए तो यह असम्भव है कि वह भविष्य में कोई दुर्दान्त अपराध कर पाने की हिम्मत जुटा सके क्योंकि योग व शाकाहार के सम्मिलित अभ्यास से आत्मिक बल इतना ज्यादा मजबूत हो जाता है कि व्यक्ति कभी भी गलत रास्ते पर जा ही नहीं सकता जबकि वहीँ दूसरी तरफ किसी शांत सज्जन आदमी को भी अगर रोज तामसिक खाना (जैसे मांस, मछली, अंडा, शराब, बियर आदि) नियमित खिलाया जाए तो बहुत संभव है कि वह सज्जन व्यक्ति भी, कभी भी जाने अनजाने कोई ऐसा जघन्य पाप (जैसे- हत्या, बुरी तरह मारपीट करना, बलात्कार आदि) कर दे जो वो पहले कभी सोच भी नहीं सकता था ! इसलिए परम आदरणीय हिन्दू धर्म का यह कथन “जैसा अन्न वैसा मन” एकदम सही है !

इसके अतिरिक्त निर्दोष जानवरों की जब हत्या होती है तो उनके दिल से भयंकर श्राप निकलता है जो उन्हें मारने वाले कसाईयों और उनकी लाशों के मांस खाने वाले लोगों दोनों का लगता है जिसकी वजह से ऐसे लोगों की जिंदगी में आये दिन ऐसी समस्याएं (जैसे कठिन बीमारियाँ, एक्सीडेंट, कर्जा, गरीबी, अपमान आदि किसी भी रूप में) पैदा होती रहतीं हैं जों उन्हें खून के आंसू रुलाती हैं ! जबकि शाकाहारी के जीवन में, किसी मांसाहारी की तुलना में बहुत ज्यादा सुख शान्ति प्रसन्नता निश्चित तौर पर बनी रहती है ! इसलिए मांसाहार करना तुरंत छोड़ देना चाहिए !

खुद भी शाकाहार करिए और दूसरों को भी शाकाहार अपनाने के लिए प्रेरित करिए क्योंकि अगर आपकी प्रेरणा से कभी किसी एक निर्दोष जानवर की हत्या होने से बच गयी तो इसका महा पुण्य आपको जरूर मिलेगा जो आपके इस लोक व परलोक में बहुत काम आएगा !

(नोट- अगर मांस, मछली या अंडा आदि खाने का बार बार मन करता हो तो कृपया नीचे दिए गए आर्टिकल के लिंक को क्लिक कर पढ़ें और उसमें बताये गए बेहद आसान तरीके को मात्र 5 मिनट सुबह व रात में करने से, ना केवल मांस खाने की आदत बल्कि अन्य सभी तरह की बुरी आदतों से मात्र 40 दिनों में ही छुटकारा निश्चित मिलने लगता है और साथ ही साथ सभी तरह की बीमारियों व सभी समस्याओं का भी नाश धीरे धीरे होने लगता है और इतना ही नहीं बल्कि सभी उचित मनोकामनायें भी उचित समय आने पर निश्चित पूरी होकर ही रहती है ! इसमें सबसे अच्छी बात यह है कि इस प्रयोग को “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अब तक सैकड़ों लोगों पर आजमाया जा चुका है और हर बार निश्चित ही सफलता मिली है ! इस आर्टिकल को पढने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- सभी बिमारियों, सभी मनोकामनाओं व सभी समस्याओं का निश्चित उपाय है ये )

तथा “स्वयं बनें गोपाल” समूह के मुख्य स्वयं सेवकों का संक्षिप्त परिचय जानने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें- जानिये “स्वयं बनें गोपाल” समूह के मुख्य स्वयं सेवकों को

(आवश्यक सूचना- विश्व के 169 देशों में स्थित “स्वयं बनें गोपाल” समूह के सभी आदरणीय पाठकों से हमारा अति विनम्रतापूर्वक निवेदन है कि आपके द्वारा पूछे गए योग, आध्यात्म से सम्बन्धित किसी भी लिखित प्रश्न (ईमेल) का उत्तर प्रदान करने के लिए, कृपया हमे कम से कम 6 घंटे से लेकर अधिकतम 72 घंटे (3 दिन) तक का समय प्रदान किया करें क्योंकि कई बार एक साथ इतने ज्यादा प्रश्न हमारे सामने उपस्थित हो जातें हैं कि सभी प्रश्नों का उत्तर तुरंत दे पाना संभव नहीं हो पाता है ! वास्तव में “स्वयं बनें गोपाल” समूह अपने से पूछे जाने वाले हर छोटे से छोटे प्रश्न को भी बेहद गंभीरता से लेता है इसलिए हर प्रश्न का सर्वोत्तम उत्तर प्रदान करने के लिए, हम सर्वोत्तम किस्म के विशेषज्ञों की सलाह लेतें हैं, इसलिए हमें आपको उत्तर देने में कभी कभी थोड़ा विलम्ब हो सकता है, जिसके लिए हमें हार्दिक खेद है ! कृपया नीचे दिए विकल्पों से जुड़कर अपने पूरे जीवन के साथ साथ पूरे समाज का भी करें निश्चित महान कायाकल्प)-

यदि आप भी इस वैश्विक परिवर्तन के महा आन्दोलन में, अपना प्रचंड योगदान देने का बेशकीमती जज्बा रखते हो तो निःसंकोच अभी तुरंत जुड़िये “स्वयं बनें गोपाल” समूह से और वो भी पूरी तरह से अपनी सुविधानुसार (अर्थात अपने मनपसन्द तरीके व समयानुसार) ! मनपसन्द तरीके से तात्पर्य है कि आपकी चाहे जिस भी क्षेत्र में रूचि हो (जैसे- कला, विज्ञान, साहित्य, शिक्षा, चिकित्सा, रंगमंच, संगीत, अभिनय, सुरक्षा, कृषि, रिसर्च (शोध), लेखन, भक्ति, योग, सेवाधर्म या किसी भी अन्य तरह के क्षेत्र में रूचि हो, या श्रमदान करने की इच्छा हो), उसी क्षेत्र से सम्बन्धित कोई भी छोटा से लेकर बड़ा उचित प्रेरणास्पद कार्य करें तो “स्वयं बनें गोपाल” समूह आपके उस कार्य को पूरे विश्व के सामने उजागर कर, अन्य सभी के मन में भी ऐसा प्रेरणायुक्त कार्य करने की इच्छा को जगाकर, विश्व परिवर्तन की इस महा क्रांति का जमीनी स्तर से लेकर सर्वोच्च स्तर तक संक्रामक रूप से प्रसार करेगा ! अगर आपको स्वयं समझ में ना आ रहा हो कि आप कब, कैसे और क्या - क्या कर सकतें हैं तब भी आप तुरंत “स्वयं बनें गोपाल” समूह से निःसंकोच सम्पर्क कर सकतें हैं क्योंकि इसके विशेषज्ञों की सलाह से आप निश्चित रूप से अपने में छिपी हुई अपार संभावनाओं व गुणों को पहचान करके इस विश्व के लिए महान परोपकारी साबित हो सकतें हैं (अर्थात स्वयं गोपाल बनकर श्री कृष्ण राज रुपी स्वर्णिम युग की पुनर्स्थापना में अत्यंत सहायक हो सकते हैं) ! इसके अतिरिक्त यदि आप एक संस्था, विशेषज्ञ या व्यक्ति विशेष के तौर पर “स्वयं बनें गोपाल” समूह से औपचारिक, अनौपचारिक या अन्य किसी भी तरह से जुड़कर या “स्वयं बनें गोपाल” समूह से किसी भी तरह का उचित सहयोग, सहायता, सेवा लेकर या देकर, इस समाज की भलाई के लिए किसी भी तरह का ईमानदारी पूर्वक प्रयास करना चाहतें हों, तो भी हमसे जुड़ें ! हमसे जुड़ने के लिए कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह से जुड़कर अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) में विश्वस्तरीय योग/आध्यात्म सेंटर खोलकर सुख, शान्ति व निरोगता का प्रचार प्रसार करना चाहतें हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, एक ऐसी महान दुर्लभ यौगिक प्रक्रिया {जो हमें परम आदरणीय ऋषि सत्ता के दिव्य कृपा प्रसाद स्वरुप प्राप्त हुई है और जिसका निरंतर अभ्यास करने पर, कोई भी आम इंसान (चाहे वह कितना भी बड़ा पापी हो या पुण्यात्मा, गरीब हो या अमीर, स्त्री हो या पुरुष, बालक हो या वृद्ध) निश्चित रूप से दिन ब दिन बढ़ती हुई अपने अंदर ईश्वरत्व की अनुभूति को महसूस करते हुए स्वयं, गोपाल अर्थात ईश्वर बनने की प्रक्रिया की ओर बढ़ने लगता है ! जिसके फलस्वरूप धीरे धीरे उसके शरीर की सभी बीमारियों का नाश होकर, वह चिर युवावस्था की ओर बढ़ता है और तदनन्तर उचित समय आने पर ईश्वर के दर्शन पाने का महा सौभाग्य भी उसे अवश्य प्राप्त होता है, जिसके बाद की उसके जीवन की बागडोर स्वयं गोपाल अर्थात ईश्वर संभाल लेतें हैं ! इस अमृत स्वरुप प्रक्रिया (जिसे रोज करने में मात्र एक घंटा ही समय लगता है) का नाम है “स्वयं बनें गोपाल” योग} का शिविर, ट्रेनिंग सेशन, शैक्षणिक कोर्स, सेमीनार, वर्क शॉप, प्रोग्राम (कार्यक्रम), कांफेरेंस आदि का आयोजन करवाकर समाज में पुनः श्री कृष्ण राज अर्थात स्वर्णिम युग की पुनर्स्थापना के महायज्ञ में अपनी भी पवित्र आहुति देना चाहते हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप विश्व प्रसिद्ध “स्वयं बनें गोपाल” समूह से योग, आध्यात्म से सम्बन्धित शैक्षणिक कोर्स करके अपने व दूसरों के जीवन को भी रोगमुक्त बनाना चाहतें हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में योग, प्राणायाम, आध्यात्म, हठयोग (अष्टांग योग) राजयोग, भक्तियोग, कर्मयोग, कुण्डलिनी शक्ति व चक्र जागरण, योग मुद्रा, ध्यान, प्राण उर्जा चिकित्सा (रेकी या डिवाईन हीलिंग), आसन, प्राणायाम, एक्यूप्रेशर, नेचुरोपैथी आदि का शिविर, ट्रेनिंग सेशन्स, शैक्षणिक कोर्सेस, सेमीनार्स, वर्क शॉप्स, प्रोग्राम्स (कार्यक्रमों), कांफेरेंसेस आदि का आयोजन करवाकर समाज को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक व सचेत करना चाहतें हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, अब लुप्त हो चुके अति दुर्लभ विज्ञान के प्रारूप {जैसे- प्राचीन गुप्त हिन्दू विमानों के वैज्ञानिक सिद्धांत, ब्रह्मांड के निर्माण व संचालन के अब तक अनसुलझे जटिल रहस्यों का सत्य (जैसे- ब्लैक होल, वाइट होल, डार्क मैटर, बरमूडा ट्रायंगल, इंटर डायमेंशनल मूवमेंट, आदि जैसे हजारो रहस्य), दूसरे ब्रह्मांडों के कल्पना से भी परे आश्चर्यजनक तथ्य, परम रहस्यम एलियंस व यू.ऍफ़.ओ. की दुनिया सच्चाई (जिन्हें जानबूझकर पिछले कई सालों से विश्व की बड़ी विज्ञान संस्थाएं आम जनता से छुपाती आ रही हैं) तथा अन्य ऐसे सैकड़ों सत्य (जैसे- पिरामिड्स की सच्चाई, समय में यात्रा, आदि) के विभिन्न अति रोचक, एकदम अनछुए व बेहद रहस्यमय पहलुओं से सम्बन्धित नॉलेज ट्रान्सफर सेमीनार (सभा, सम्मेलन, वार्तालाप, शिविर आदि), कार्यक्रमों आदि का आयोजन करवाकर, इन दुर्लभ ज्ञानों से अनभिज्ञ समाज को परिचित करवाना चाहते हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, अति पवित्र व मोक्षदायिनी धार्मिक गाथाएं, प्राचीन हिन्दू धर्म के वेद पुराणों व अन्य ग्रन्थों में वर्णित जीवन की सभी समस्याओं (जैसे- कष्टसाध्य बीमारियों से मुक्त होकर चिर यौवन अवस्था प्राप्त करने का तरीका) के समाधान करने के लिए परम आश्चर्यजनक रूप से लाभकारी व उपयोगी साधनाएं व ज्ञान आदि से सम्बन्धित नॉलेज ट्रान्सफर सेमीनार (सभा, सम्मेलन, वार्तालाप, शिविर आदि), कार्यक्रमों आदि का आयोजन करवाकर, पूरी तरह से निराश लोगों में फिर से नयी आशा की किरण जगाना चाहते हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) या अपने किसी भी सरकारी या प्राईवेट संस्थान/ऑफिस(कार्यालय) आदि में, एक आदर्श समाज की सेवा योग की असली परिचायक भावना अर्थात “वसुधैव कुटुम्बकम” की अलख ना बुझने देने वाले विभिन्न सौहार्द पूर्ण, देशभक्ति पूर्ण, समाज के चहुमुखी विकास व जागरूकता पूर्ण, पर्यावरण सरंक्षण, शिक्षाप्रद, महिला सशक्तिकरण, नशा एवं कुरीति उन्मूलन, अनाथ गरीब व दिव्यांगो के भोजन वस्त्र शिक्षा रोजगार आदि जैसी मूलभूत सुविधाओं के प्रबंधन, मोटिवेशनल (उत्साहवर्धक व प्रेरणास्पद) एवं परोपकार पर आधारित कार्यक्रमों (चैरिटी इवेंट्स, चैरिटी शो व फाईलेन्थ्रोपी इवेंट्स) का आयोजन करवाकर ऐसे वास्तविक परम पुण्य प्रदाता महायज्ञ में अपनी आहुति देना चाहतें हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

यदि आप “स्वयं बनें गोपाल” समूह द्वारा अपने गाँव/शहर/कॉलोनी(मोहल्ले) में भारतीय देशी गाय माता से सम्बन्धित कोई व्यवसायिक/रोजगार उपक्रम {जैसे- अमृत स्वरुप सर्वोत्तम औषधि माने जाने वाले, सिर्फ भारतीय देशी गाय माता के गोमूत्र, दूध, घी, मक्खन, दही, छाछ आदि का निर्माण व विक्रय केंद्र तथा गोबर सम्बन्धित उपक्रम जैसे- गोबर गैस प्लांट, गोबर खाद व गोबर निर्मित पूजा अगरबत्तियां, मूर्तियां, गमले, पूजा की थालियां, मच्छर भगाने की क्वाइल आदि} {या मात्र सेवा केंद्र (जैसे- बूढी बीमार उपेक्षित गाय माता के भोजन, आवास व इलाज हेतु प्रबन्धन)} खोलने में सहायता लेकर साक्षात कृष्ण माता अर्थात गाय माता का अपरम्पार बेशकीमती आशीर्वाद के साथ साथ अच्छी आमदनी भी कमाना चाहतें हों, तो कृपया इसी लिंक पर क्लिक करें

जानिये “स्वयं बनें गोपाल” समूह और इसके प्रमुख स्वयं सेवकों के बारे में

Click Here To View 'About Us / Contact Us' in English

धन्यवाद,
(“स्वयं बनें गोपाल” समूह)

हमारा सम्पर्क पता (Our Contact Address)-
“स्वयं बनें गोपाल” समूह,
प्रथम तल, “स्वदेश चेतना” न्यूज़ पेपर कार्यालय भवन (Ground Floor, “Swadesh Chetna” News Paper Building),
समीप चौहान मार्केट, अर्जुनगंज (Near Chauhan Market, Arjunganj),
सुल्तानपुर रोड, लखनऊ (Sultanpur Road, Lucknow),
उत्तर प्रदेश, भारत (Uttar Pradesh, India).

हमारा सम्पर्क फोन नम्बर (Our Contact No)– 91 - 0522 - 4232042, 91 - 07607411304

हमारा ईमेल (Contact Mail)– info@svyambanegopal.com

हमारा फेसबुक (Our facebook Page)- https://www.facebook.com/Svyam-Bane-Gopal-580427808717105/

हमारा ट्विटर (Our twitter)- https://twitter.com/svyambanegopal

आपका नाम *

आपका ईमेल *

विषय

आपका संदेश