जो टेढ़े को सीधा करे, उनका नाम है श्री राधा

downloadभाई सही बात है जब किसी की बहुत ज्यादा डिमांड हो जाय और हर आदमी उससे मिलना चाहे तो वो नखरे दिखाना शुरू करेगा ही ! ठीक यही बात बांके बिहारी के साथ है ! पूरी दुनिया के असंख्य भक्त दिन रात बांके बिहारी का इन्तजार करते करते थक जाते हैं कि प्रभु एक बार तो अनुभव में आओ, पर जैसे लगता है की बाके बिहारी को तो कोई फर्क ही नहीं पड़ता !

वो कहाँ गायब रहते हैं, कुछ समझ में ही नहीं आता ! इस समय अपने असंख्य भक्तों में किसी भक्त के घर बैठ कर लड्डू खा रहे हैं कि जान बूझ कर खूब झेला झेला कर अपने नखरे दिखा रहे हैं, कुछ समझ में ही नहीं आता !

सबको बार बार हैरान करने वाली इनकी इसी आदत की वजह से इनका नाम बांके बिहारी पड़ा !

बांके का मतलब होता है टेढ़ा ! इनका हर काम, हर लीला टेढ़ी होती है ! भक्त ऐसे टेढ़े आदमी के भरोसे खाली रहे तो रोज रोज हैरान परेशान हो ! ऐसे टेढ़े भगवान को सीधा करने का एक मात्र उपाय हैं श्री राधा ! क्योंकि राधा जी इनकी सबसे बड़ी कमजोरी हैं !

राधा जी इनकी इतनी बड़ी कमजोरी हैं कि, राधा राधा बोलकर इनको इमोशनल ब्लैक मेल करके दुनिया का कोई भी काम करवाया जा सकता है !

शुक्र है राधा जी नाम की स्विच हम लोगों के पास है जिसको दबाते ही अत्यंत चंचल चपल नटखट शरारती कभी स्थिर शांत ना बैठने वाले लड्डू गोपाल भी गाय की तरह सीधे और हर कहना मानने वाले आज्ञाकारी लड़के हो जातें है !

और राधा जी तो बेचारी इतनी सीधी हैं ही कि जो खाने को दो खुश हो कर खा लेती है, जो पहनने को दो पहन लेती है, जहाँ बैठा दो वही चुपचाप बैठ जाती हैं !

ये महान आश्चर्य की बात है की इतनी परम सीधी सादी राधा जी का सबसे पक्का दोस्त लड्डू गोपाल इतना ज्यादा नटखट शरारती और चंचल है !

एकदम सच बात है और कोई भी जा कर पता कर सकता है कि वृन्दावन के बांके बिहारी मंदिर में अक्सर ऐसा होता है की ये लड्डू गोपाल कपड़ा पहनने में पुजारियों को बहुत हैरान करते हैं क्योकि उनको उस दिन कुछ नया स्पेशल खाने के लिए भोग में चहिए होता है (हालांकि भोग में नयी स्पेशल चीज मांगने के पीछे उनका मुख्य उद्देश्य होता है, उस दिन अपने दर्शन करने वाले भक्तों को स्पेशल प्रसाद खिलाने का) !

ये अनन्त दयामयी कृपा है श्री राधा जी की, कि उनके नाम के प्रचंड प्रताप की वजह से अनन्त ब्रह्मांडो के रचयिता, पालन हार और विनाशक, पूर्ण ईश्वर, श्री कृष्ण, की बाल लीलाओं के अति दुर्लभ अनुभवों को हम महसूस कर सकते हैं !

तो बोलिए, श्री कृष्ण जिनकी पूजा करते हैं, ऐसी परम सीधी, परम प्यारी, परम दयालु, श्री लाडली सरकार, राधा रानी की जय ! !

facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
loading...


ये भी पढ़ें :-