बहुमूत्र का आसान आयुर्वेदिक इलाज

imagesठण्ड की वजह से बार बार पेशाब महसूस हो तो ये कोई बीमारी नहीं है पर अगर हर मौसम में सामान्य आदमी की तुलना में ज्यादा बार पेशाब जाना पड़े तो ये एक समस्या है ! प्रस्तुत है इसके आसान और हानि रहित उपाय –

– तीसी को पीस कर गुड़ मिलाकर या बिना गुड़ मिलाये लड्डू बनाकर रोज सुबह शाम 1 -1 लड्डू खाने से काफी आराम मिलता है |

– दो मुनक्कों के बीज निकालकर उसमें 1 काली मिर्च डालकर रात को सोने से पहले खा लें | ऐसा कुछ दिन तक नियमित रूप से सेवन करने से यह बीमारी दूर होती है |

– प्रतिदिन दो अखरोट और बीस किशमिश खाने से बिस्तर में पेशाब करने की समस्या दूर हो जाती है |

– रात को सोते समय शहद खाने से यह रोग समाप्त हो जाता है |

– जामुन की गुठलियों को छाया में सुखाकर बारीक पीस लें | इस चूर्ण का 2-2 ग्राम दिन में दो बार पानी के साथ सेवन करने से बहुत फायदा मिलता हैं |

– 250 मिली दूध में एक छुहारा डालकर उबाल लें | इसके बाद इसमें से छुहारा निकाल कर खा लें और इस दूध को पी लें तो निश्चित काफी आराम मिलेगा |

(नोट – जिन नुस्खों में मीठी सामग्रियों के इस्तेमाल का वर्णन है उनका प्रयोग डायबिटिज के मरीज चिकित्सक की सलाह से ही करें)

facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
loading...


ये भी पढ़ें :-