वर्किंग कपल्स……….क्यों रोज होते झगड़े ?

जितने लोग इमेल्स और फोन कॉल्स प्रतिदिन हमारी संस्था को अपनी बीमारी के प्राकृतिक इलाज से सम्बंधित सलाह पाने के लिए करते हैं लगभग उससे थोड़े ही कम लोग अपने सामाजिक रिश्तों व सम्बन्धों...

डॉक्टर्स को दूर रखने वाले बेहद आसान घरेलु नुस्खे (भाग – 1)

–  देसी गुलाब की 9-10 पंखुड़ियों को एक गिलास पानी में कुछ घंटों के लिए भिगो दें। इस पानी से नियमित रूप से आंखें धोने पर आँखों की थकावट दूर होती है।   -अल्सर...

आस्तीन के सांप अपना बेस्ट रोल परफॉर्म कर रहें हैं

कुछ सत्यान्वेषी समाज शास्त्रियों का कहना है कि, मोदी जी एक ईमानदार व्यक्ति हैं जो उनके द्वारा किये गए एकदम नए कई विकास के अदभुत व आश्चर्यजनक कार्यों को देखकर समझा जा सकता है !...

चेहरा देखकर ही भूत भविष्य वर्तमान पता लगने लगता है

दो तरह का ज्योतिष होता है, एक ग्रहों के प्रभावों का अध्ययन करके और दूसरा अपने अध्यात्मिक बल से ! ग्रहों के सम्पूर्ण प्रभावों का अध्ययन अथाह है इसलिए इसका पूर्ण जानकार बन पाना...

एक वर्ष में कोई भी उचित मनोकामना पूर्ण करने का अमोघ तरीका

इस तरीके को जानने से पहले यह समझना जरूरी है कि यह तरीका, जो जाने अनजाने कई लोगों द्वारा किया जाता है पर उनकी मनोकामना नहीं पूर्ण होती है, क्यों ? इसमें प्रथम द्रष्टया...

क्या चाय के प्राचीन लुप्त हो चुके फार्मूले में चिर यौवन के गुण मौजूद थे ?

किसी भी विद्वान डॉक्टर से पूछिए तो वो यही बतायेगा कि चाय, कॉफ़ी आदि जैसे सभी पेय पदार्थ नुकसान दायक हैं इसलिए इनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए और अगर इनकी आदत पड़ गयी हो...

क्यों गिरने से पहले कुछ उल्कापिण्डो को सैटेलाईट नहीं देख पाते

2 तरह के उल्का पिण्ड होते हैं, एक जो अंतरिक्ष में भटकते हुए ऐसे पिण्ड होते हैं जो पृथ्वी के गुरुत्व क्षेत्र में फसकर व आकर्षित होकर पृथ्वी पर गिर जाते है ! और...

प्रेत पिशाच दिख सकते हैं लेकिन देवता नहीं, क्यों

ये ऐसा लॉजिक है जिसे समझने में आज का साइंस अभी तक फेल है ! धीरे धीरे हिन्दू धर्म में लिखी हर बात नासा समेत यूरोप के सभी वैज्ञानिकों के सामने सही साबित होने...

सही साबित होती जा रही हैं ऋषि सत्ता की भविष्यवाणियां

परम आदरणीय ऋषि सत्ता ने मार्च 2016 के अन्तिम सप्ताह में ही भविष्य वाणी की थी (जिसे हमने 2 अप्रैल 2016 को फेसबुक के माध्यम से आप लोगों तक पहुचांया था) कि इस बार...

क्या किसी मनोवैज्ञानिक षड़यंत्र का हिस्सा हैं केजरीवाल, गांधीजी व अन्ना हजारे ?

विश्व के इतिहास से बड़े पैमाने पर छेड़छाड़ हुई है और कई ऐतिहासिक घटनाओं को एक सोची समझी साजिश के तहत एकदम बदल कर मनमाने तरीकों से किताबों में लिख दिया गया है !...

आने वाली आफत के हैं कई चेहरे

उल्का पिण्ड का गिरना, रहस्यमय बीमारी फैलना, भयंकर बाढ़ आना, अचानक राजनैतिक तख्ता पलट होना, और प्रलयंकारी भूकम्प, ये सब इस साल के तोहफे हैं, क्रुद्ध प्रकृति अर्थात महामाया का इन्सानों के वास्ते !...

माँ …….

माँ आज तुम मेरे पास नहीं हो फिर भी मै अकेला नहीं हू क्योकी जब भी कभी मै किसी अनदेखी अनछुई तपिश में घिरता हूँ तुम्हारी ममता की छाँव मुझे सहला जाती है और...

महा आश्चर्य …………. इतना बड़ा चमत्कार वो भी इतने जल्दी

आपको यह जानकर बहुत आश्चर्य होगा की जिस ईश्वर को पाना बहुत कठिन बताया जाता है उसी ईश्वर को अगर बाल रूप में भजा जाय तो सिर्फ कुछ ही दिनों में वो आपसे चमत्कारी...