नारदजी की तरह हम सभी जो यह दुनिया देख रहें वह असली नहीं, मात्र एक सपना है

शास्त्रों में दिए गए इस महा वाक्य का क्या मतलब है;- “ब्रह्म (ईश्वर) सत्य, जगत मिथ्या” ? Complete cure of deadly disease like HIV/AIDS by Yoga, Asana, Pranayama and Ayurveda. एच.आई.वी/एड्स जैसी घातक बीमारियों … Continue reading नारदजी की तरह हम सभी जो यह दुनिया देख रहें वह असली नहीं, मात्र एक सपना है