वैद्यों द्वारा बताया गया आँखों की रोशनी तेज करने का बेहद आसान उपाय

3232323अगर आँखों में कोई बड़ा रोग ना लगा हो तो इस उपाय को करने से 1 महीने में ही स्पष्ट फायदा दिखने लगता है !

इसे नियमित करने से आँखों की रोशनी धीरे धीरे साफ़ होने लगती है ! ज्यादा कंप्यूटर पर काम करने की वजह से या डायबिटिज की वजह से आँखों से धुंधला दिखता हो तो उसमें भी आराम मिलते देखा गया है !

यह उपाय इतना आसान है कि बहुत से लोगों को विश्वास ही नहीं होता है कि इससे भी कोई फायदा होगा !

इस उपाय को आज भी गाँव के कुछ बड़े बुजुर्ग रोज करते हुए मिल जायेंगे जिसकी वजह से उनकी आँखें उनके बुढ़ापे के बावजूद भी एकदम स्वस्थ देखने को मिलती हैं !

इस उपाय को आधे अधूरे तरीके से तो बहुत से लोग करते हैं पर जैसा कि सर्वविदित है कि जब तक कोई प्रक्रिया एकदम सही तरीके से ना की जाय, तब तक उस प्रक्रिया से सही फायदे की उम्मीद भी कैसे की जा सकती है !

इस उपाय में केवल इतना ही करना होता है कि कोई भी आदमी जब भी सो कर उठे तो उठने के तुरंत बाद मुंह में पानी भरकर (मुंह कुल्ली की तरह), खुली आँखों में साफ़ पानी के कम से कम 15 – 20 बार छीटे मारे !

इसमें ध्यान रखने वाली बात यह है कि खुली आँखों में पानी के छीटें मारते समय, मुंह में पानी लगातार भरा होना चाहिए मतलब जब तक हाथों से पानी के छीटें आँखों पर मारें तब तक मुंह के अन्दर भरे हुए पानी को ना ही निगलना है और ना ही बाहर थूकना है !

बहुत से ऐसे लोग हैं जो रोज सुबह उठने के बाद आँखों में पानी के छीटें मारते हैं लेकिन उस समय वो मुंह में पानी नहीं भरे हुए होते हैं इसलिए उन्हें इस प्रक्रिया का सही लाभ नहीं मिल पाता है !

आज के जमाने में स्थिति तो इतनी ख़राब हो चुकी है कि बहुत से लोग सुबह सो कर उठने के बाद पहले अख़बार, लैपटॉप, मोबाइल, मॉर्निंग टी आदि निपटाने के बाद ही ब्रश करने के बारे में सोचते हैं !.

ऊपर दिए गए उपाय का फायदा तभी मिलेगा जब सो कर उठने के तुरंत बाद ही इसको किया जाय !

और हाँ अगर आप दोपहर में भी सोते हैं तो दोपहर को भी सोकर उठने के बाद इसको कीजिये ! मतलब जब जब भी सोकर उठिए, तब तब इस उपाय को करना ना भूलिए !

जिन इन्टेलेक्चुअल्स को ये सब दकियानूसी बातें लगे और उन्हें शक हो कि सिर्फ रोज सुबह मुंह में पानी भरकर आँखे धोने से रोशनी में कैसे सुधार होगा, तो उन्हें खुद या उनके किसी परिचित को जिसे चश्मा लगा हो, इस प्रक्रिया को 1 महीने करवाकर खुद ही चेक कर लेना चाहिए !

12333eअगर किसी की आँखे ठीक हो तो, वह भी अगर इस उपाय को करे तो जिंदगी में कभी भी चश्मा लगाने की नौबत नहीं पड़ेगी जब तक कि वो विशेष बदपरहेजी ना करे !

इस उपाय को करने का एक एडिशनल फायदा यह भी है कि इस तरह आँखे धोने के बाद दिमाग में एक बढ़िया ताजगी और शान्ति भी महसूस होती है !

वैसे तो एक आदमी को स्वस्थ रहने के लिए बहुत से गलत कामों से परहेज करना पड़ता है पर हम यहाँ बाते कर रहें हैं आँखों के परहेज की, तो उनमें से कुछ ऐसे हैं जिन्हें रोज रोज इग्नोर करना घातक हो सकता है; जैसे –

– सो कर उठने के बाद आँखे बहुत संवेदनशील होती हैं इसलिए तुरंत उन पर जोर डालने वाला काम (जैसे – मोबाइल, लैपटॉप, टी वी आदि देखना या अखबार पढना आदि) नहीं करना चाहिए ! इसलिए सोकर उठने के बाद ऐसे कामों को कम से कम 15 – 20 मिनट तक अवॉयड करना चाहिए !

– कंप्यूटर पर देर तक काम करने वालों को हर एक घंटे बाद 1 ग्लास पानी पीना चाहिए और बिना चश्मा के 3 – 4 सेकंड के लिए बहुत दूर तक देखने का प्रयास करना चाहिए !

– दिन भर में कम से कम 1 बार गर्दन को गोल गोल घुमाने की और आँख की पुतलियों को गोल गोल घुमाने की एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए !

– डायबिटिज के बढ़ने से आँखों पर बुरा असर पड़ता है इसलिए शूगर लेवल का नियमति नियंत्रण जरूरी है !

facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail


ये भी पढ़ें :-