मरने से पहले का आराम

beyond-602060_640दिन भर कड़ी मेहनत और रात को सुन्दर नीद !

जीवन भर कड़ी मेहनत और मृत्यु की गोंद में प्यार भरी नीद !

दिन भर कोई मेहनत नहीं तो रात में बिस्तर पर बेचैनी !

जीवन भर कोई मेहनत नहीं तो मृत्यु के समय बेचैनी !

आदमी और जानवरों में अंतर हैं बुद्धि का, धर्म अधर्म के निर्णय करने का !

इसलिए दिन भर धर्म के पथ पर रहकर मेहनत, तो ही रात में सुख पूर्वक नींद !

और जीवन भर धर्म के पथ पर रहकर मेहनत तो ही मृत्यु के गोंद में सुख, नहीं तो मरने से पहले ही मरने का डर ही जीने नहीं देता !

facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail


ये भी पढ़ें :-