कैंसर, डायबिटीज, खून की कमी, ऑस्टियोपोरोसिस, मोटापा व झुर्रियों में बहुत फायदा है देशी टमाटर

आजकल के वैज्ञानिकों ने पैदावार बढ़ाने के लिए लगभग हर सब्जी और अनाज के जीन्स में परिवर्तन करके कई नयी नयी प्रजातियाँ विकसित की हैं जिससे भगवान प्रदत्त जबरदस्त औषधीय गुणों का इन सब्जियों और अनाजों में नाश होता जा रहा है !

ऊपर से खतरनाक जहरीले कीटनाशकों और रासायनिक खादों का इफरात प्रयोग, जिससे कुल मिलाकर हम लोग रोज मर्रा के अपने खाने पीने से कोई फायदा नहीं उठा पा रहें है सिवाय नुकसान के !

अगर आप को शुद्ध देशी प्रजाति की सब्जियां और अनाज मिल जायं तो समझ लीजिये की आपके हाथ खजाना लग गया क्योंकि ऐसी हर सब्जी और अनाज के हजारों आयुर्वेदिक औषधीय फायदे हैं और जिनसे सैकड़ों बिमारियों का इलाज हो सकता है !

यहाँ पर देशी टमाटर के फायदे दिए जा रहें जो अक्षरशः सत्य है –

– डायबिटीज रोगियों के लिए टमाटर खाना बहुत फायदेमंद होता है। टमाटर, क्रोमियम का एक बहुत अच्छा स्रोत हैं, जो ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करता है। हर रोज एक खीरा और एक टमाटर खाने से डायबिटीज रोगी को लाभ मिलता है।

– टमाटर में लाइकोपीन नामक ऐसा पौष्टिक तत्व पाया जाता है जो कैंसर की कोशिकाओं की वृद्धि को न केवल रोकता है बल्कि उनको समाप्त भी कर देता है। टमाटर में पर्याप्त मात्रा में मौजूद लाइकोपीन कई तरह के कैंसर को रोकने में फायदेमंद होता है।

– इसमें विटामिन ए, बी, सी, लाइकोपीन, पोटैशियम भरपूर मात्रा में पाए जाते है। टमाटर की खूबी यह है कि गर्म करने के बाद भी इसके विटामिन समाप्त नहीं होते हैं। यह शरीर में खून की कमी को दूर कर शरीर को पुष्ट, सुडौल, और फुर्तीला रखने में मदद करता है।

– टमाटर खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है, पेट साफ रहता है और भूख बढ़ती है। इसके अलावा टमाटर पाचन शक्ति को बढ़ता है और पेट संबंधित अनेक समस्याओं को दूर करता है।

– टमाटर खाने से त्वचा बहुत अच्छी रहती है। टमाटर में मौजूद लाइकोपीन त्वचा को अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाता है। जो लाइनों और झुर्रियों का एक प्रमुख कारण होता है।

– टमाटर में मौजूद विटामिन ‘के’ और कैल्शियम दोनों ही हड्डियों को मजबूत बनाने और मरम्मत के लिए बहुत अच्छे होते हैं। साथ ही इसमें मौजूद लाइकोपीन हड्डियों को सुधारता है, जो ऑस्टियोपोरोसिस से लड़ने के लिए बहुत कारगर तरीका है।

– अगर आपके पेट में कीड़े हैं तो हर रोज खाली पेट टमाटर में हींग का छौंक लगाकर खाने या टमाटर का जूस पीने से पेट के सारे कीड़े निकल जाते हैं। टमाटर पर काली मिर्च लगाकर खाना भी काफी फायदेमंद होता है।

– टमाटर में उच्च बायोफ्लेवोनाइड और कैरोटीन होता है, जो प्रज्वलनरोधी कारक के रूप में जाना जाता है। अगर आपको गठिया है तो टमाटर का सेवन कीजिए। एक गिलास टमाटर के रस को सौंठ में डालकर अजवायन के साथ सुबह- शाम पीजिए, गठिया में फायदा होगा।

– टमाटर में मौजूद विटामिन ‘ए’ आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह दृष्टि में सुधार और रतौंधी को रोकने में मदद करता है।

– टमाटर वजन को नियंत्रित करने में मदद करता है। अगर आप वजन कम करने के लिए आहार और व्यायाम की योजना पर हैं तो अपने रोजमर्रा के भोजन में टमाटर शामिल करें। टमाटर में ढेर सारा पानी और फाइबर होता है, इसीलिये इसे वजन नियंत्रण करने वाला ‘फिलिंग फूड’ कहते हैं। यह वो आहार है जो जल्दी पेट भरता है वो भी बिना कैलोरी या फैट बढ़ाये।

facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
loading...


ये भी पढ़ें :-